कप्तान के तौर पर दूसरी बार विश्वकप में उतरेंगे रोहित, जानिए क्या है तैयारी

On

नई दिल्ली  । भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित दूसरी बार टी20 टी20 विश्व कप में भारतीय टीम की कप्तानी करने के लिए तैयार हैं। इससे पहले रोहित की कप्तानी में भारतीय टीम ने एकदिवसीय विश्वकप खेला था जिससे उसे फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। ऐसे में इस बार रोहित का लक्ष्य किसी भी प्रकार से खिताब जीतना रहेगा। रोहित ने अपनी कप्तानी को लेकर कहा कि उनका लक्ष्य मैच में किसी भी संभावित स्थिति से निपटने के लिए अपने को तैयार करना रहता है। साथ ही कहा कि एक कप्तान के तौर पर सबसे कठिन काम सभी को संभालना रहता है। साथ ही कहा कि कप्तान के दौरान उन्होंने सीखा है कि किस प्रकार सभी को सम्मान और महत्व देना होता है जिससे कि वे अपने को टीम का अहम हिस्सा समझते हुए जिम्मेदारी निभा सकें। इसके अलावा जब वे किसी परेशानी में आपके पास आते हैं तो उनकी समस्या का हल निकालन होता है। इसलिए वह मैदान पर उतरने से पहले विपक्षी टीम और खिलाड़ियों के बारे में जानकारी हासिल करते हैं।

उन्होंने कहा कि मुझे दोनों ही क्षेत्रों एक कप्तान और एक खिलाड़ी के रूप में तैयारी करनी होती है। मेरे लिए मैदान और प्रतिद्वंद्वी के बारे में सीखना अहम होता है। मैं बैठक कक्षों में जाता हूं और बहुत समय बिताता हूं। यह खिलाड़ियों के लिए नहीं बल्कि केवल मेरे लिए है जिससे कोई भी स्थिति आने पर मैं जवाब दे सकूं। रोहित ने कहा कि टी20 प्रारूप काफी चुनौतीपूर्ण हो गया है क्योंकि इसमें खिलाड़ी मैच में अलग-अलग रवैया अपनाते हैं और आपको उसके अनुसार तैयार रहना होता है।

यह भी पढ़े - साहिल चौहान ने साइप्रस के खिलाफ बनाए 144 रन 

Ballia Tak on WhatsApp
Tags

Comments

Post A Comment