रामनगर: आक्रोशित ग्रामीणों ने कॉर्बेट पार्क के ढेला और झिरना पर्यटन जोन में पर्यटकों की आवाजाही की ठप, धरना प्रदर्शन कर की नारेबाजी

On

रामनगर: रामनगर के ग्रामीण क्षेत्रों में पिछले लंबे समय से बाघ के आतंक से ग्रामीण दहशत में जीने के लिए मजबूर हैं। बाघ द्वारा अभी तक कई ग्रामीण क्षेत्रों में कई ग्रामीणों को जहां एक ओर अपना निवाला बनाया जा चुका है तो वहीं यह कई पालतू जानवरों को भी अपना शिकार बन चुके हैं।

वन्यजीवों के आतंक से निजात दिलाने को लेकर ग्रामीण लंबे समय से आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन इस क्षेत्र में जंगली जानवरों के आतंक से ग्रामीणों को निजात दिलाने में महकमा पूरी तरह नाकाम साबित हो रहा है। 

यह भी पढ़े - मैं तो दीवानी हुई श्याम की : हर्षिका बनीं ‘मीरा’, कान्हा को वरमाला पहनाकर रचाई शादी ; देखें Video

बता दें कि दो दिन पूर्व रामनगर वनप्रभाग के ग्राम चुकुम में जंगल में शौच करने गए गोपाल राम पर बाघ ने हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया था तो वहीं रविवार की दोपहर ग्राम सांवल्दे पश्चिम निवासी दुर्गा देवी जब जंगल में लकड़ी लेने गई तो इस महिला को भी बाघ ने अपना शिकार बना डाला। इस घटना के बाद गांव में जहां एक ओर बाघ की दहशत को लेकर ग्रामीण परेशान हैं तो वहीं सोमवार को दर्जनों ग्रामीणों ने ग्राम सांवल्दे मुख्य सड़क पर जाम लगाते हुए धरना प्रदर्शन करते हुए कॉर्बेट प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। 

वहीं पुलिस एवं वन विभाग के अधिकारियों द्वारा ग्रामीणों को समझाते हुए जाम खोलने का अनुरोध किया गया लेकिन ग्रामीण अपनी मांग पर अड़े रहे। जाम की वजह से विश्व प्रसिद्ध जिम कार्बेट नेशनल पार्क के झिरना एंव ढ़ेला रेंज में गुस्साई महिलाओं ने पर्यटको की आवाजाही पूरी तरह ठप कर दी। इसी बीच पंजाब राज्य के जेड प्लस सुरक्षा प्राप्त  वीवीआईपी पूर्व विधायक विक्रम सिंह मजीठिया भी इसी मार्ग से गुजरने वाले थे जिसको लेकर पुलिस ने ग्रामीणों को काफी समझाया। इस बीच ग्रामीण और पुलिस के बीच तीखी नोक झोक भी हुई लेकिन ग्रामीणों ने जाम नहीं खोला। 

इसी बीच पंजाब के इस वीआईपी की फ्लिट भी मौके पर पहुंच गई जिसे देखकर ग्रामीणों ने नारेबाजी करते हुए अपना प्रदर्शन उग्र कर दिया। ग्रामीणों के आक्रोश को देखकर पंजाब के वीआईपी को आखिरकार अपने सुरक्षा कर्मियों सहित वापस लौटना पड़ा। ग्रामीणों की मांग है कि हमलावर बाघ को शीघ्र ट्रेंकुलाइज कर उसे गोली मारी जाए और ग्रामीणों को वन्यजीवों के आतंक से सुरक्षा प्रदान की जाए। 

उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो 11 फरवरी को रामनगर में एक राज्य स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया है ,जिसमें एक बड़े आंदोलन को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी। वहीं इस बीच कॉर्बेट पार्क के ढेला और  झिरना पर्यटन जोन की ओर सफारी पर जा रहे पर्यटकों की सफारी को कॉर्बेट पार्क में गर्जिया व बिजरानी जोन में डायवर्ट किया। 

कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के उपनिदेशक दिगंन्थ नायक ने बताया कि दुख का विषय है कि कल बाघ द्वारा महिला को निवाला बनाया गया है।उन्होंने कहा कि बाघ को पकड़ने को लेकर उच्चाधिकारियों से अनुमति मिल चुकी है कहा कि मौके पर पिंजरा लगाने के साथ ही कैमरा ट्रैप लगाया गया है और साथ ही बाघ की लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है,उन्होंने कहा कि जल्द ही बाघ को ट्रेंकुलाइज कर लिया जाएगा।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts