काशीपुर: प्रधानाध्यापक और सहायक अध्यापक दस हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

On

काशीपुर। विजिलेंस टीम ने ग्राम बांसखेड़ा कला स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में छापा मारकर स्कूल प्रधानाध्यापक और सहायक अध्यापक को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने निजी स्कूलों में छापे के दौरान मिली खामियों को उच्चाधिकारियों को न भेजने के एवज में रिश्वत की मांग की थी।

महुआखेड़ा गंज स्थित एक निजी स्कूल संचालक ने सतर्कता अधिष्ठान के टोल फ्री नंबर में शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें कहा था कि राजकीय प्राथमिक विद्यालय बांसखेड़ा कला में नियुक्त प्रधानाध्यापक दिनेश शर्मा व सहायक अध्यापक अंकुर प्रताप प्राइवेट स्कूलों में चेकिंग के दौरान स्कूलों में पाई जाने वाली खामियों को उच्च स्तर पर न भेजने के एवज में 10 हजार रुपये की रिश्वत मांग रहे हैं।

यह भी पढ़े - मैं तो दीवानी हुई श्याम की : हर्षिका बनीं ‘मीरा’, कान्हा को वरमाला पहनाकर रचाई शादी ; देखें Video

विजिलेंस टीम ने जांच में प्रथम दृष्टया शिकायत सही पाई और ट्रैप टीम का गठन किया गया। गुरुवार को सीओ विजिलेंस के नेतृत्व में टीम ने प्रधानाध्यापक को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते व सहायक अध्यापक को साक्ष्यों के आधार पर रिश्वत की मांग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

मामले में आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। निदेशक सतर्कता डॉ. वी मुरुगेशन ने ट्रेप टीम को नगद पुरस्कार देने की घोषणा की। टीम में विजिलेंस इंस्पेक्टर ललिता पांडे, ट्रेप प्रभारी भानू प्रकाश आर्य आदि शामिल रहे।

प्राइमरी पाठशाला बांसखेड़ा कला के हेडमास्टर जो सीआरसी भी हैं को 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। सीआरसी होने के नाते निजी स्कूलों में चेकिंग के दौरान मिली खामियों को उच्चाधिकारियों को न भेजने की एवज में रिश्वत की मांग की गई थी। सहायक अध्यापक ने रिश्वत की डिमांड की थी। विजिलेंस हल्द्वानी द्वारा अग्रिम वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।
- अनिल मनराल, सीओ विजिलेंस, हल्द्वानी।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts