चोरी के आरोप में नाबालिगों को तालिबानी सजा : पिलाया पेशाब; गुप्तांग में डाली मिर्ची

On

सिद्धार्थनगर। जिले में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। पथरा थाना क्षेत्र एक गांव में मुर्गी की दुकान में घुसने पर उसके मालिक और अन्य लोगों ने दो नाबालिग बालकों के साथ दरिंदगी की हदें पार कर दी।

सिद्धार्थनगर। जिले में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। पथरा थाना क्षेत्र एक गांव में मुर्गी की दुकान में घुसने पर उसके मालिक और अन्य लोगों ने दो नाबालिग बालकों के साथ दरिंदगी की हदें पार कर दी। पहले दोनों को पेशाब पिलाया, फिर पेट्रोल का इंजेक्शन लगाया। इसके बाद गुप्तांग में हरी मिर्ची डाल दिया। दोनों बालक चीखते चिल्लाते रहे, लेकिन दरिंदगी करने वालों को जरा सा भी दया नहीं आई। घटना शुक्रवार की बताई जा रही है, जिसका वीडियो शनिवार को इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गया। पुलिस ने कुछ लोगों को उठाया है। एएसपी सिद्धार्थ ने भी घटनास्थल का जायजा लेते हुए पीड़ितों से मुलाकात की।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कोनकटी चौराहे पर सऊद पुत्र आजम पोल्ट्री फार्म संचालित करता है। वह और उनके परिजन इसकी देखभाल करते हैं। शुक्रवार दोपहर दो बजे लगभग सऊद व उनके साथ शामिल चार अन्य लोगों ने तुरकौलिया तिवारी व झहरांव के दो नाबालिग बच्चों को पैसा व मुर्गा चुराने के आरोप में पकड़ लिया। फार्म के अंदर बांधकर दोनों को बुरी तरह पीटा। इतना ही नहीं दोनों बच्चों को जबरिया मिर्चा खिलाकर बोतल में पेशाब भरकर पिलाया। गुप्तांग में हरी मिर्ची तोड़कर डालने के साथ ही पेट्रोल का इंजेक्शन भी लगा दिया। इस घटना का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने के बाद पीड़ितों के परिजनों ने पथरा पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। 

इसके बाद थानेदार से लेकर एएसपी तक मौके पर पहुंच गए। पीड़ित परिवार की तहरीर पर पुलिस ने आठ आरोपितों पर पॉक्सो एक्ट समेत गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर चार नबालिग समेत छह आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। पोल्ट्री फार्म संचालक समेत दो की तलाश चल रही है। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पोल्ट्री फार्म व आसपास पुलिस तैनात कर दी गई है।

ये है मामला

यह भी पढ़े - लोकसभा चुनाव 2024: डिंपल यादव के पास करोड़ों की संपत्ति, लाखों के गहने, शपथ पत्र में किया खुलासा

बताया जा रहा है कि गुरुवार को पोल्ट्री फार्म से दो हजार रुपये चोरी हो गये थे। शक में पोल्ट्री फार्म संचालक सऊद अलग-अलग गांव के रहने वाले 10 वर्ष और 15 वर्ष की उम्र के दोनों बच्चों को पकड़ कर पोल्ट्री फार्म पर लाया। यहां सऊद ने अपने सात अन्य सहयोगियों के साथ दोनों बच्चों की जमकर पिटाई की। चोरी की घटना से बच्चे लगातार इनकार करते रहे। इसके बाद आरोपियों ने दरिंदगी की सारी हदें पार कर दीं। दोनों पीड़ित बच्चे अलग-अलग समुदाय के हैं। 

बिना पंजीयन हो रहा था फार्म का संचालन

पोल्ट्री फार्म संचालक पिछले तीन वर्ष से बिना पंजीयन न सिर्फ फार्म का संचालन कर रहा था, बल्कि मुर्गों को काटकर बेंचता भी था। नियम है कि अगर पोल्ट्री फार्म पर मुर्गे काटकर बेंचे जाते हैं तो उस फार्म का पंजीयन खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग में होना चाहिए। डीओ जीके दुबे ने बताया कि उन्हें इसकी की जानकारी नहीं थी, विभाग जांच कर संचालक पर कार्रवाई करेगा।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment