Shahjahanpur News: ट्रैफिक का दबाव बढ़ा तो अंटा चौराहा पर फट गई पेयजल लाइन, दो दिन से चल रहा मरम्मत का प्रयास

On

शाहजहांपुर: खुदाई के चलते जर्जर हुईं महानगर की सड़कें यातायात के दबाव को सहन नहीं कर पा रही हैं और उनमें ब्लास्ट हो रहे हैं। ताजा उदाहरण अंटा चौराहे का है। यहां यातायात के दबाव के चलते पेयजल लाइन रविवार शाम फट गई। तुरंत ही मरम्मत के प्रयास शुरू किए गए, लेकिन इसी बीच लाइन में दोबारा फाल्ट आ गया। 

ऐसे में सोमवार शाम तक पूरी तरह से लाइन को सही नहीं कराया जा सका। दो-दो जेसीबी से खुदाई कर लाइन को सही करने का प्रयास किया जा रहा है। इसके बाद भी लाइन सही नहीं हो पा रही है। ऐसे में हजारो लीटर पानी बर्बाद हो रहा है। दूसरी ओर खुदाई के चलते सोमवार को दिन भर अंटा चौराहे पर जाम जैसे हालात रहे। लोग जान जोखिम में डालकर आवागमन करते रहे।

यह भी पढ़े - केशव प्रसाद मौर्य पहुंचे दिल्ली, जेपी नड्डा से की मुलाकात

f89b2788-bf97-4fb4-863e-6b6449e5a100

राज्य सेक्टर कार्यक्रम के तहत शहर में 186 किमी सीवर लाइन बिछाई जानी है जिसका काम वर्ष 2021 में शुरू हो गया था। कार्य जून 2023 तक पूरा कराया जाना था, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। इसके बाद कार्यदायी संस्था को 31 दिसंबर तक समय दिया गया, लेकिन इस बार भी काम पूरा नहीं हुआ। अब भी शहर में मुख्य सड़को और गलियों में खोदाई चल रही है, जिसका दंश शहरवासियों को झेलना पड़ रहा है। कार्य में देरी के चलते कार्यदायी संस्था टेक्नोक्राफ्ट पर दो करोड़ रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था। 

इसके बाद भी निर्माण गति नहीं पकड़ पा रहा है। महानगर में पेयजल लाइन का आए दिन फटना भी कहीं न कहीं सीवर लाइन निर्माण से ही जुड़ा हुआ है। क्योंकि सीवर लाइन निर्माण शुरू होने के बाद अब तक कई बार पेयजल लाइन फट चुकी है। इसके बाद भी काम में तेजी नहीं आ सकी है। जिसके चलते पेयजल संकट पैदा होने की आशंका है। दूसरी ओर खुदाई से जर्जर हुईं सड़कों में पेयजल लाइन फटने की समस्या बनी हुई है। अब तक कई बार पेयजल लाइन फट चुकी है।

5d456181-6264-4ec5-b6fb-51dbcbecd4f6

अधिकारियों ने बताया कि सड़कों को गहराई तक खोद कर सीवर लाइन डाली जा रही है। सीवर लाइन के पास ही सड़क में पेयजल लाइन है। सीवर लाइन डालने के बाद जब मिट्टी से सड़क पाटी जाती है तो भारी भरकम वाहनों का वजन भुरभुरी हो चुकी मिट्टी से होते हुए पेयजल लाइनों पर पड़ता है और पेयजल लाइन फट जाती हैं। आए दिन पेयजल लाइन फटने की समस्या सामने आती है।

महानगर में पहले भी फट चुकी है पेयजल लाइन
महानगर में पहले भी कई बार पेयजल लाइन फट चुकी हैं। किसी तरह नगर निगम और पेयजल निगम की ओर से इनकी मरम्मत कराकर सप्लाई सुचारू की गई। हालांकि इस दौरान आम जनता को पेयजल को लेकर परेशानी उठानी पड़ती है। सक्षम लोगों के तो घरों में नल और सबमर्सिबल लगे हैं, लेकिन गरीबों को सरकारी नलों का ही सहारा है। पेयजल लाइन फटने के चलते गरीबों को पेयजल के लिए परेशान होना पड़ता है। उन्हें किसी तरह नल या पड़ोसी के घर से पानी लाकर काम चलाना पड़ता है।  

23 जनवरी को लाल इमली चौराहे पर फटी लाइन
लाल इमली चौराहा से पंखी चौराहा वाली रोड पर सीवर लाइन की खोदाई के दौरान जलापूर्ति की लाइन 23 जनवरी को क्षतिग्रस्त हो गई थी। इससे सड़क पर खोदे गए गड्ढे में पानी भर गया। दोपहर से देर शाम तक पानी बहता रहा, जिसको ठीक करने के लिए कोई कर्मचारी नहीं पहुंचा। जिसकी वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। अगले दिन कहीं जाकर पेयजल लाइन को सही कराया गया।

एक महीने तक ठप रही थी पेयजल सप्लाई
30 जून 2023 को महानगर में सीवरेज की खुदाई के दौरान पाइप लाइन क्षतिग्रस्त होने से पांच वार्डों में एक महीने से ज्यादा समय से पेयजल सप्लाई चालू न होने की बात सामने आई थी। इससे गुस्साए पांचों पार्षदों ने कच्चे कटरा मोड़ पर बीच सड़क पर धरना दिया था और नारेबाजी की थी।
पार्षदों ने उच्चाधिकारियों के आने और समस्या समाधान होने पर ही धरना समाप्त करने की घोषणा की थी। करीब दो घंटे बाद नगर आयुक्त संतोष कुमार शर्मा जल निगम और सड़क की खुदाई करने वाली कंपनी के जिम्मेदार अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे थे। काफी देर वार्ता के बाद पार्षदों ने चार दिन का अल्टीमेटम देकर धरना समाप्त कर दिया।

11 दिसंबर को पुलिस लाइन के पास फटी थी पाइप लाइन
11 दिसंबर 2023 को पुलिस लाइन के पास मुख्य पाइन लाइन फटने के चलते दो दिन से सड़क तलैइया बन गई थी। आने-जाने वाले ई-रिक्शा, साइकिल और बाइक सवार इन गड्ढों में गिरकर चोटिल हुए थे। साथ ही हजारो लीटर पानी सड़क पर बहकर बर्बाद हो गया था। दो दिन तक यही हाल रहा था। इस दौरान यहां से गुजरने वालों को सड़क की हालत देखकर ताल-तलैइया की अनुभूति हुई थी। स्थानीय दुकानदारों ने बताया था कि सड़क में कई गहरे गड्ढे हैं। पानी भर जाने की वजह से यहां से गुजरने वालों को गड्ढे दिखाई नहीं देते और वह गड्ढे में फंस कर हादसे का शिकार हो जाते हैं।

पेयजल लाइन फटने के बाद से सही करने में टीमें जुटी हुई हैं। रविवार को फटी पेयजल लाइन को ठीक करा दिया गया है। इसी के साथ दूसरी जगह पर लाइन फट गई है। उसे सही कराने का प्रयास किया जा रहा है। यातायात का अधिक दबाव और लाइन के पुरानी होने की वजह से पाइप फटने की आशंका है। पाइप फटने के कारणों का पता लगाया जा रहा है-कपिल एम सिंह, अधिशासी अभियंता, जल निगम।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts

ताजा समाचार

बलिया : सेल्फी के चक्कर में रेल पुल से सरयू नदी में गिरी किशोरी, सन्न रह गई सहेली
फंदे पर लटका मिला हेड मास्टर का शव, मचा हड़कम्प
बलिया रेलवे स्टेशन पर दर्दनाक हादसा, ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत ; युवती गंभीर
Kanpur: कोर्ट के आदेश पर कंपनी और निदेशकों पर दर्ज हुई धोखाधड़ी की रिपोर्ट; महिला को उठाना पड़ा था इतने करोड़ रुपये का नुकसान...
UP विधानसभा उपचुनाव: मुख्यमंत्री योगी ने मंत्रिमंडल के सहयोगियों के साथ की बैठक, इन मुद्दों पर हुई चर्चा
Kanpur: केस्को की टीम ने संविदा कर्मी के घर पर मारा छापा; बरामद हुए बिजली के नए व पुराने मीटर
बाढ़ के लिहाज से कानपुर अति संवेदनशील; आपदा प्रबंधन टीम करेगी मॉक एक्सरसाइज, हेलीकॉप्टर से बचाव व राहत का होगा पूर्वाभ्यास