माफिया से छुड़ाई गई भूमि पर गरीबों के लिए आवास बनाएं सभी विकास प्राधिकरणः योगीआदित्यनाथ

On

प्रयागराज: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संगम नगरी के लूकरगंज क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत कमजोर आय वर्ग के 76 लोगों को आवासों की चाबी वितरित की।

प्रयागराज: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के सभी विकास प्राधिकरण माफिया से छुड़ाई गई भूमि पर गरीबों के लिए आवास बनाएं। साथ ही जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में गरीबों को उनके आशियाने की चाबी सौंपें। इससे लोगों के मन में सरकार के प्रति नया विश्वास पैदा होगा। यह सुशासन का वह भाव है, जिसकी शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नौ वर्ष पहले की थी। उन्होंने कहा कि 2017 के पहले उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत एक भी गरीब को आवास नहीं मिल पाया था। वहीं प्रदेश में डबल इंजन की सरकार आने के बाद 54 लाख से ज्यादा गरीबों को अपना एक-एक आवास मिल गया है।

सीएम योगी ने कहा- माफिया के साथ खड़ी रहती थीं पहले की सरकारें

सीएम योगी ने शुक्रवार को संगम नगरी के लूकरगंज क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत कमजोर आय वर्ग के 76 लोगों को आवासों की चाबी वितरित की। माफिया के कब्जे से मुक्त कराई गई भूमि पर योगी सरकार ने 6.6548 करोड़ रुपए की लागत से गरीबों के लिए आवास बनाया है। इसके साथ ही कार्यक्रम में सीएम योगी ने 768 करोड़ की 226 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पहले की सरकारें माफिया के साथ खड़ी रहती थीं। इस वजह से उत्तर प्रदेश विकास नहीं कर पा रहा था। गरीब को जहां तहां झोपड़ी डालकर अपना जीव यापन करना पड़ता था। वहीं हमारी सरकार गरीबों के साथ खड़ी है, उनको आवास उपलब्ध करा रही है।

चाबी वितरण कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बने मकानों का निरीक्षण किया। साथ ही उन्होंने योजना के लाभार्थियों से मुलाकात की, जहां सीएम योगी ने छोटे बच्चों को चॉकलेट और बिस्किट के पैकेट दिए। इसके अलावा उन्होंने कॉलोनी के मैदान में वृक्षारोपण भी किया।

यह भी पढ़े - प्रयागराज: नगर निगम के कर अधिकारी सहित दो कर्मचारियों पर FIR, रिश्वत लेने से जुड़ा है मामला

कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल गुप्ता 'नंदी', प्रयागराज की सांसद प्रोफेसर रीता बहुगुणा जोशी, फूलपुर की सांसद केसरी देवी पटेल और पूर्व मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह मौजूद थे।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment