Pilibhit News: एनएमसी में न हो फेल, इसलिए अब नए स्थान पर बनेगी 30 बेड की इमरजेंसी

On

पीलीभीत। मेडिकल कॉलेज के संचालन को पूरी तरह शुरू करने के लिए एनएमसी की टीम का दौरा प्रस्तावित है। इसे लेकर तैयारियां जोरों पर हैं।

मगर पुरानी इमरजेंसी एनएमसी में कहीं रोड़ा न बन जाए, इसके लिए अब महिला अस्पताल के पास खाली पड़ी जगह में  30 बेड का इमरजेंसी वार्ड तैयार कराया जाएगा। कार्यदायी संस्था की ओर से नापजोख का काम पूरा कर ले-आउट तैयार किया गया है। जल्द ही निर्माण कार्य शुरू होगा।

यह भी पढ़े - बस्ती छात्र अपहरण काण्डः मारपीट के दौरान मोहित की हुई मौत, 3 और अभियुक्त गिरफ्तार

राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग (एनएमसी) की ओर से पहली एलओपी के लिए कभी भी निरीक्षण किया जा सकता है। एनएमसी के मानक के अनुसार इमरजेंसी की क्षमता कम से कम 30 बेड की होनी चाहिए, जोकि एक ही हॉल में व्यवस्थित हो। अस्पताल में संचालित हो रही इमरजेंसी में एक स्थान पर 30 बेड नहीं है, जिस कारण प्राचार्या ने हाल संचालित इमरजेंसी को मानक के मुताबिक नहीं बताया था। इसके बाद से ही नई इमरजेंसी की स्थापना को लेकर माथापच्ची चल रही थी। 

रविवार को मेडिकल कॉलेज का निर्माण कर रही वेनसा इंटरप्राइजेज के प्रोजेक्ट मैनेजर ने महिला अस्पताल के पास नई इमरजेंसी के निर्माण को लेकर नापजोख की व खाका खींचा। नए इमरजेंसी वार्ड में 30 बेड के साथ ही चिकित्सक कक्ष, स्टाफ नर्स कक्ष, शौचालय, स्नानघर आदि का निर्माण किया जाएगा। पुरानी इमरजेंसी को समाप्त कर यहां शिफ्ट कराया जाएगा। इसको लेकर तैयारियां शुरु कर दी गई है। 

प्राचार्य डॉ. संगीता अनेजा ने बताया कि पुरानी इमरजेंसी मेडिकल कॉलेज के मानक अनुरुप नहीं है। इसलिए महिला विंग में इमरजेंसी वार्ड को तैयार करने की तैयारी चल रही है। उम्मीद जताई जा रही है कि इस माह में एनएमसी टीम दौरे पर आ सकती है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts