मुरादाबाद : घर में घुसकर जानलेवा हमला करने वाले 10 लोगों में दो गिरफ्तार...चार महीने पहले दर्ज हुई थी एफआईआर

On

मुरादाबाद: चार महीने पहले बिलारी थाने में दर्ज मामले में पुलिस ने अब कार्रवाई शुरू की है। मामला कमालपुर चंदौरा गांव का है। यहां आरोपियों ने रुकमपाल सिंह के घर में घुसकर लाठी-डंडों से पीटा था। जिसमें घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मामले में रुचि राघव ने 25 मई को 10 लोगों के विरुद्ध नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

इसमें शुक्रवार को थाना पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों में गांव का ही आदर्श पुत्र राजेश और चंदन पुत्र महिपाल सिंह है। इन्हें पुलिस ने जेल भी भेज दिया है, जबकि अन्य आठ आरोपी अभी तक गांव में ही घूम रहे हैं। थानाध्यक्ष बिलारी अमित कुमार तोमर ने बताया कि शेष आठ आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़े - यूपी में हीटवेब से 51 की गई जान

उधर, आदर्श व चंदन को गिरफ्तार करने वाले विवेचक जयवीर सिंह ने बताया कि इन आरोपियों को उन्होंने रुकमपाल सिंह के घर में घुसकर गाली-गलौज और जानलेवा हमला करने के आरोप में जेल भेजा है।  उन्होंने बताया कि पीड़िता रुचि राघव ने जानलेवा हमला करने के आरोप में तहरीर दी थी। जिसके बाद से आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास में थी। थाने में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, नामजद 10 लोगों में राजेश व उसके बेटे आदर्श, निगम और महिपाल सिंह के बेटे चंदन, अभिनंदन व सुनील व उनके बेटे तुषार, रितिक के साथ ही महिपाल व योगेश हैं।  

रुचि ने पुलिस को बताया था कि 24 मई को उसके पड़ोसी आपस में लड़ रहे थे। इसमें योगेश व राजेश हस्तक्षेप करने लगे तो रुचि के चाचा राजू ने विरोध किया। उस समय मामला शांत हो गया था। अगले दिन सुबह रुचि घर के गेट पर खड़ी थी, तभी आरोपी लाठी-डंडे लेकर उसके घर में घुस आए और हमला बोल दिया। इसमें पिता रुकमपाल सिंह के सिर में लाठी लगी थी। रुचि और उसके भाई आशीष को भी मारा था। 

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment