मुरादाबाद : महानगर के जलभराव वाले मोहल्लों में डेंगू का खतरा बढ़ गया है।

डेंगू के प्रति संवेदनशील जामा मस्जिद, नवाबपुरा आदि इलाकों में पानी भर गया है, बारिश के रुके हुए पानी में मच्छरों के लार्वा पनप रहे हैं।

On

मुरादाबाद। महानगर के जलजमाव वाले मोहल्लों में डेंगू व अन्य संक्रामक बीमारियों का खतरा बढ़ गया है। रामगंगा नदी के किनारे स्थित जामा मस्जिद, नवाबपुरा, आशियाना फेस 2, रामगंगा विहार, नवाबपुरा, बंगलागांव, सूरजनगर में जल स्तर कम होने के बाद रुके हुए पानी में मच्छर के लार्वा पनप रहे हैं। जिससे डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ने की आशंका है.

स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की गंभीरता की कमी के कारण ये इलाके डेंगू और संक्रामक बीमारियों का केंद्र बन सकते हैं. हालांकि विभाग के अधिकारियों का मानना है कि अभी तक जिले में डेंगू से कोई मौत नहीं हुई है। लेकिन वे डेंगू के मरीजों की बढ़ती संख्या से भी इनकार नहीं करते. पोर्टल के आंकड़ों की गणना के बाद मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि अब तक 212 डेंगू संक्रमित मरीज एलाइजा टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं।

यह भी पढ़े - योग शपथ अभियान में यूपी राजभवन ने बनाया विश्व कीर्तिमान

लेकिन उन्होंने रैपिड टेस्ट में एनएस-1 पॉजिटिव मरीजों को संभावित माना। कहा कि उनका एलाइजा टेस्ट कराने के बाद ही हम डेंगू की पुष्टि मान सकते हैं। लेकिन सवाल यह है कि जिला अस्पताल के अलावा किसी भी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र पर एलाइजा टेस्ट की सुविधा नहीं है। इसका परीक्षण केवल महानगर के बड़े नर्सिंग होम और निजी डायग्नोस्टिक सेंटरों में ही किया जा रहा है। रिपोर्ट तीन से चार दिन बाद मिलती है। जिससे डेंगू के लक्षण से पीड़ित मरीजों का इलाज भी प्रभावित हो रहा है. मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.कुलदीप सिंह का कहना है कि महानगर और ग्रामीण इलाकों के मोहल्लों में डेंगू के मरीज मिल रहे हैं। एलाइजा टेस्ट के आधार पर पोर्टल पर अब तक 212 डेंगू मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। लैब संचालकों को एलाइजा टेस्ट कराने में भी तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं। यह भी कहा गया है कि केवल प्लेटलेट्स कम होने पर मरीज को डेंगू पॉजिटिव न मानें।

डेंगू के लिहाज से यह महानगर का संवेदनशील इलाका है।

डेंगू के मरीज मिलने के आधार पर महानगर में सर्वे के आधार पर संवेदनशील इलाकों को चिन्हित किया गया है। जिसमें सभी शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोहल्ले हैं। करूला, पीएसी, कटघर, असालतपुरा, आशियाना, किसरौल, लाल मस्जिद, लालबाग, लाइनपार, मकबरा, बंगलागांव, मुगलपुरा, बारादरी, बरबलान, नागफनी, नवीननगर, नवाबपुरा, बुद्धिविहार, पुलिस लाइंस, चक्कर की मिलक, चंद्रनगर, पंडित नगला, पीरजादा . , सिविल लाइंस, पीटीसी, रामगंगा विहार, टीडीआई सिटी, सूरजनगर, दौलतबाग, तहसील स्कूल, दीवान का बाजार, गंगा मंदिर, डबल फाटक, गोविंदनगर, गलशहीद, हरथला, जामा मस्जिद, जयंतीपुर, कच्चाबाग, कचहरी, आजाद नगर, बैंक कॉलोनी, बुध बाजार, दीनदारपुरा, दीनदयाल नगर, डिप्टीगंज, एकता विहार, गुलाबबाड़ी, गुरहट्टी, हिमगिरी कॉलोनी, जामा मस्जिद, जिगर कॉलोनी, काशीराम नगर, खुशहालपुर, कोतवाली, लाकड़ी, गगन तिराहा, मझोला, मालवीय नगर, मंडी चौक, मान सरोवर कॉलोनी, मिलन विहार, नया गांव, नया मुरादाबाद, पीतल नगरी है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment