मुरादाबाद : वेतन न देने पर BSA का जवाब तलब, डीएम-सीडीओ ने किया प्राथमिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण

डीएम-सीडीओ ने किया प्राथमिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण

On

कन्या प्राथमिक विद्यालय के निरीक्षण के दौरान छात्रा से जानकारी लेते जिलाधिकारी। 

मुरादाबाद। जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह और मुख्य विकास अधिकारी सुमित यादव ने बुधवार को नगर क्षेत्र के बेसिक शिक्षा परिषद के दो स्कूलों का अलग-अलग निरीक्षण किया। रसोइया, शिक्षामित्र और अनुदेशक का वेतन भुगतान न करने पर जिलाधिकारी ने बीएसए का जवाब तलब किया है। 

जिलाधिकारी कंपोजिट विद्यालय कन्या तहसील नगर क्षेत्र में अचानक पहुंचे। यहां पर प्रधानाध्यापक सहित नौ अध्यापक उपस्थित मिले। कक्षा 2 व 3 के छात्र-छात्राओं से गणित के सवाल पूछे। कुछ बच्चों ने सही उत्तर दिए। स्कूल में सफाई में कमी मिलने पर प्रधानाध्यापक को निर्देश दिया कि नियमित सफाई कराएं। स्कूल में कार्यरत रसोइया का मार्च और शिक्षामित्र व अनुदेशक का 3 महीने से वेतन व मानदेय भुगतान न होने पर जिला बेसिक शिक्षाधिकारी से स्पष्टीकरण मांगा है। 

यह भी पढ़े - बलिया : रसोईया और सहायक अध्यापक के परिजनों का आंसू पोछ शिक्षकों ने आपदा राहत कोष से सौंपा सहयोग राशि

मुख्य विकास अधिकारी सुमित यादव ने नगर क्षेत्र के कंपोजिट विद्यालय मझोला का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने विद्यालय में जूनियर हाईस्कूल के बच्चों की कम्प्यूटर शिक्षा के लिए चल रहे मिशन दक्ष कार्यक्रम की प्रगति जानी। दोपहर एक बजे जब मुख्य विकास अधिकारी विद्यालय में पहुंचे तो यहां पंजीकृत 476 बच्चों में से 283 मौजूद मिले। कम उपस्थिति पर उन्होंने नाराजगी जताई।

बताया गया कि जूनियर हाईस्कूल के 200 बच्चों में से अब तक 95 बच्चे कम्प्यूटर शिक्षा में दक्ष हो चुके हैं। उन्होंने सबसे पहले कक्षा 6 व 7 के बच्चों से कम्प्यूटर संचालन के बारे में पूछा। उनसे लैपटॉप चलवाकर देखा। मुख्य विकास अधिकारी ने शिक्षक बनकर बच्चों को कम्प्यूटर की बारीकियों को समझाया। उन्होंने कक्षा 8 के बच्चों से अंग्रेजी की किताब भी पढ़वाई। मुख्य विकास अधिकारी ने विद्यालय के शिक्षकों को बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के साथ ही कम्प्यूटर शिक्षा में दक्ष बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने स्कूल परिसर में पौधरोपण भी किया।

बिना मान्यता प्राप्त संचालित विद्यालयों पर कार्रवाई के निर्देश
मुरादाबाद। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अजीत कुमार ने जनपद में बिना मान्यता प्राप्त संचालित विद्यालयों के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। बुधवार को जारी हुए नोटिस में समस्त खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह समस्त ब्लाकों में बिना मान्यता प्राप्त संचालित हो रहे विद्यालयों की 10 अक्टूबर तक जांच करें। यदि कोई विद्यालय बिना मान्यता प्राप्त संचालित हो रहा हो तो उसके खिलाफ कार्रवाई किया जाए। साथ ही सभी ब्लाक में कोई विद्यालय बिना मान्यता प्राप्त किए संचालित नहीं हो रहा है। इसका प्रमाण पत्र उपलब्ध कराएं।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment