Meerut News: मेरठ में सेना का अधिकारी बनकर साइबर ठगी करने वाले दो गिरफ्तार, 44 लाख रुपए से अधिक की आनलाइन ठगी

On

Meerut news : मेरठ में सेना का अधिकारी बनकर साइबर क्राइम करने वाले गैंग के दो लोगों को साइबर क्राइम थाना मेरठ ने गिरफ्तार किया है। दोनों ने सेना का फर्जी अधिकारी बनकर 44 लाख रुपए से अधिक की आनलाइन ठगी की थी। साइबर क्राइम थाना मेरठ पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। 

10 गणेश भगवान की मूर्तियों खरीदने का आर्डर आर्मी हास्पिटल मेरठ में

जानकारी देते हुए मेरठ साइबर क्राइम थाना मेरठ द्वारा अवगत कराया गया कि करीब 20 दिन पूर्व आवेदक लक्ष्य रस्तौगी पुत्र विपिन रस्तौगी द्वारा थाना में तहरीर दी गयी थी कि उसके मोबाईल पर अज्ञात मोबाईल नम्बर से काल कर 10 गणेश भगवान की मूर्तियों खरीदने का आर्डर आर्मी हास्पिटल मेरठ में डिलीवरी करने के लिये दिया गया। इसका पैसा डिलीवरी के समय क्यूआर कोड व आर्मी का खाता वैरीफाई करने का झासा देकर आवेदक से भिन्न.भिन्न ट्रान्जेक्शनों के माध्यम से कुल 44,24,889 रुपए निकाल लिए गए। इस मामले में साइबर थाने द्वारा कार्यवाही करते हुए उपरोक्त अभियोग की विवेचना से प्रकाश में आये दो साइबर ठगों को गिरफ्तार किया गया।

यह भी पढ़े - बलिया पहुंचे प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के प्रदेश महामंत्री ने उठाई यह मांग, बोले...

अपराध करने का तरीका

पूछताछ में अभियुक्तो द्वारा बताया गया कि उसके गैंग के सदस्य गूगल के माध्यम से विभिन्न दुकानदारों का मोबाईल नम्बर लेकर सेना के नाम से सामान खरीदने की बात कहते थें। इसके बाद पैसा एडवान्स में करने के लिये उनसे क्यूआर कोड मंगवाकर उस पर रिक्वेस्ट डालकर यूपीआई पिन भरवाकर विश्वास में लेकर बार-बार ट्रान्जेक्शन करा लेते थे। माना जा रहा है कि इस तरीके से फर्जी सेन्य अधिकारी करीब एक करोड रुपए से भी अधिक की आनलाइन ठगी कर चुके हैं। आरोपियों के नाम यतेन्द्र कुमार उर्फ कान्हा निवासी .जन्म भूमि लिन्क रोड 13 बी लक्ष्मीनगर थाना गोविन्दनगर जनपद मथुरा और रितेश शर्मा उर्फ सोनू निवासी जन्म भूमि लिन्क रोड लक्ष्मीनगर थाना गोविन्दनगर जनपद मथुरा है। 

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts