बलिया: हीट वेव’ बताने वाले सीएमएस दिवाकर सिंह पर गिरी गाज

On

बलिया में सिलसिलेवार हो रही लोगों की मौत के कारणों का प्रदेश में चर्चा का विषय बन गया है । इसके लिए डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने सख्त रूख अख्तियार करते हुए रविवार को जांच के आदेश जारी कर दिये हैं।

  • बलिया में सौ से अधिक लोगों की मौत की जांच में जुटे स्वास्थ्य विशेषज्ञ
  • डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक बोले, दो सदस्यीय दल मौत के कारणों का लगायेगा पता 

लखनऊ,बलिया तक। बलिया में सिलसिलेवार हो रही लोगों की मौत के कारणों का प्रदेश में चर्चा का विषय बन गया है । इसके लिए डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने सख्त रूख अख्तियार करते हुए रविवार को जांच के आदेश जारी कर दिये हैं। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञों का दो सदस्यीय दल प्रभावित इलाके में भेजा गया है। यह दल पूरे मामले की सिलसिलेवार जाँच करेगा। इलाज व लक्षणों का आंकलन होगा। वहीं मरीजों की मौत पर हीट वेव जैसे बयान देने वाले जिला अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. दिवाकर सिंह को पद से हटा दिया गया है। इनके स्थान पर बलिया जिला अस्पताल के सर्जन डॉ. एके यादव को जिम्मेदारी सौंपी है।

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने बलिया में लोगों की असमय मौत पर गंभीर चिंता और दु:ख व्यक्त क रते हुए कहा कि लोगों की किन कारणों से मृत्यु हुई है, इसका पता लगाना बेहद जरूरी है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग में निदेशक संचारी रोग डॉ. एके सिंह और निदेशक (उपचार) डॉ. केएन तिवारी को स्थल पर भेजा गया है। विशेषज्ञ मृतकों की संख्या, कारण और कई पहलुओं की पड़ताल करेंगे। इसके अलावा यह जांच टीम बलिया जिला अस्पताल में मरीजों की भर्ती, इलाज आदि की व्यवस्था भी देखेंगे। इस पर डिप्टी सीएम ने साफ कहा है कि जाँच रिपोर्ट व लक्षण का आंकलन किए बगैर मौत की वजह तय नहीं की जा सकती है। विशेषज्ञ पूरे मामले की जांच कर रहे हैं। रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जायेगी। फिलहाल सभी अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है। डॉक्टर और कर्मचारियों को ड्यटी पर मुस्तैद रहने व एक-एक मरीज की निगरानी के निर्देश दिये गये हैं।

यह भी पढ़े - सीएम योगी का निर्देश , हर परिवार के पास हो फैमिली आईडी

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment