लखीमपुर-खीरी: चाकू से गर्दन काटे गए युवक की इलाज के दौरान हुई मौत, जानिए मामला

On

लखीमपुर-खीरी: 30 अगस्त की रात मैलानी थाना क्षेत्र के बांकेगंज पुलिस चौकी अंतर्गत जवाहरपुर गांव में घर में चारपाई पर सो रहे तीस वर्षीय राजपाल पुत्र चेतराम की गला काटकर हत्या करने का प्रयास उसके 27 वर्षीय भाई वीरपाल ने किया था। उसके बाद से उसका इलाज लखनऊ के ट्रामा सेंटर में चल रहा था।

छह सितंबर की देर रात उसकी मृत्यु अस्पताल में ही हो गयी। परिजन उसे जवाहरपुर ले आए जहां पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हत्या का आरोपी भाई पुलिस की गिरफ्त से अब तक दूर है। पीड़ित राजपाल के बाबा रामलाल ने पुलिस को दी तहरीर में बताया था कि उनका पोता सुबह चार बजे के करीब घर के आंगन में चारपाई पर सो रहा था। उनका दूसरा पोता वीरपाल जो मैलानी सरकारी अस्पताल के पास रहता है। मेरी बहू राजपाल की पत्नी के साथ अवैध संबंध होने से राजपाल से रंजिश भी मानता था। वह घर भी आया जाया करता था।

30 अगस्त को सुबह चार बजे के करीब वह घर पर आया और आंगन में सो रहे राजपाल को जान से मारने की नीयत से उसकी गर्दन को चाकू से काट दिया था।  पति राजपाल की मौत के बाद अस्पताल से आई पत्नी ने अवैध संबंधों की बातों को पूरी तरह गलत बताया और उसने कहा कि जब घर के लोगों ने मुझे मारा पीटा तब मैंने वीरपाल को बुलाया था और उसके साथ मायके चली गयी थी। इसी से दोनों आपस में रंजिश मानते थे। परिजन उसकी बात को गलत बताते हुए अपने पूर्व के लगाए हुए आरोप को सत्य बता रहे थे। पत्नी ने बताया कि घटना के दिन उसने तीन लोगों को भागते हुए देखा था। 

जानकारी मिलते ही परिजन राजपाल को तुरंत बांकेगंज अस्पताल ले गये थे। गंभीर स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे लखीमपुर के लिए रेफर कर दिया गया था और वहां से ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया था। वहां एक सप्ताह बाद उनकी मौत हो गई। चौकी इंचार्ज संजीव कुमार ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेजा गया है। आरोपी की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हो सकी है, जिसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। यह भी पढ़ें- लखीमपुर-खीरी: तेंदुए के हमले से किशोर की मौत, क्षेत्र में दहशत का माहौल

यह भी पढ़े - दिल दहला देने वाली घटना : बहन की फावड़े से काटकर हत्या, भाई की पेड़ से लटकी मिली लाश, मचा हड़कंप

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment