कौशाम्बी: एनडी कॉन्वेंट स्कूल एंड कॉलेज में मनायी नेता सुभाष चंद्र बोस जयंती

On

कौशाम्बी: भरवारी स्थित एनडी कॉन्वेंट स्कूल एंड कॉलेज (ND Convent School and College) में नेता सुभाष चंद्र बोस के जन्मोत्सव को याद करने के लिए पराक्रम दिवस का समारोह मनाया। इस मौके पर, हमारे विद्यालय ने विभिन्न कार्यक्रमों से नेता जी की महत्वपूर्ण भूमिका को याद किया।

इस समारोह में, सबसे पहले विद्यालय के प्रबंधक पूर्व विधायक चायल संजय कुमार गुप्ता ने एक समारोहिक प्रस्ताव दिया, जिसमें उन्होंने नेता सुभाष चंद्र बोस के जीवन और उनके देशभक्ति पर जोर दिया। श्री गुप्ता जी ने अपने संदेश में कहा कि सुभाष चंद्र बोस का जीवन संघर्षों से भरा हुआ था और अनेक प्रकार के संघर्षों के बाद भी कभी भी अंग्रेजी हुकूमत के सामने झुके नहीं। सुभाष चंद्र बोस सच्चे अर्थों में भारत माता के वीर सपूत थे और महान देशभक्त थे।

यह भी पढ़े - सांसद रमाशंकर विद्यार्थी के प्रथम नगर आगमन पर सपा कार्यकर्ताओं ने गाजा बाजा के साथ किया जोरदार स्वागत

विद्यालय के छात्रों ने भी उनके जीवन से जुड़ी कुछ रोचक कहानियाँ और घटनाएं सुनाई। इसके बाद, विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षकों ने नेता जी के पराक्रम को याद करने के लिए एक संगोष्ठी की। समारोह के एक महत्वपूर्ण हिस्से में, विद्यालय ने एक पुष्प अर्पण और माल्यार्पण का आयोजन किया। इस आयोजन में, शिक्षकों ने नेता सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर के सामने पुष्प अर्पित किया और फूल चढ़ाया। इस पवित्र क्रिया से नेता जी की महक और उनकी वीरगाथा को याद किया गया। यह उत्सव एक ऐसा महत्वपूर्ण अवसर था जिसमें विद्यालय के छात्रों ने नेता सुभाष चंद्र बोस के आदर्शों को समझाया और उनके पराक्रमों का गौरव महसूस किया। इसके माध्यम से उन्हें देशभक्ति और समर्पण की भावना का एहसास हुआ।

एनडी कॉन्वेंट स्कूल एंड कॉलेज (ND Convent School and College) की डायरेक्टर श्रीमती सीमा पवार ने अपने संदेश में कहा कि सुभाष चंद्र बोस एक महान क्रांतिकारी नेता थे। उन्होंने आजाद हिंद फौज का गठन किया। एनडी कॉन्वेंट स्कूल एंड कॉलेज (ND Convent School and College) के प्रधानाचार्य डॉक्टर मयंक कुमार मिश्रा ने बताया कि सुभाष चंद्र बोस का राष्ट्रीय नारा जय हिंद था। उन्होंने कहा था कि तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा। यही नारा भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में मील का पत्थर साबित हुआ। इस अवसर पर कोऑर्डिनेटर नितेश सिंह, डॉक्टर सचिन त्रिपाठी, अंबुज श्रीवास्तव, सुधांशु विश्वकर्मा, राजेश श्रीवास्तव, मनोज गुप्ता, शिवम त्रिपाठी, गायत्री चावला, सुमन कुशवाहा, रूपल मिश्रा, उर्वशी गुप्ता, सृष्टि सिंह, नारायण प्रज्ञा शर्मा, आंचल वर्मा, रुखसार खान, मयंक जायसवाल, रणजीत सिंह, सौमित्र, राजेश श्रीवास्तव आदि शिक्षक एवं शिक्षिका उपस्थित रहे।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts