UP: रेलवे ट्रैक पर मिला अधिवक्ता के बेटे का शव, पिता बोले- एक दिया तो दूसरे को छीन लिया, परिजनों ने जताई ये आशंका

On

कानपुर में अधिवक्ता के बेटे का शव रेलवे ट्रैक पर पड़ा मिला। परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने जांच कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

कानपुर: चकेरी क्षेत्र में संदिग्ध परिस्थितियों में रेलवे ट्रैक पर अधिवक्ता के बेटे का लहूलुहान शव मिलने से सनसनी फैल गई। परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने जांच कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

गांधीग्राम निवासी अधिवक्ता रवि कुमार निरंजन का 15 वर्षीय पुत्र तनिष्क हरजिंदर नगर स्थित विद्या निकेतन स्कूल में कक्षा नौ का छात्र था। उन्होंने बताया कि रोज की तरह वह दादी के पास रविवार रात खाना खाने के बाद सो गया था। सोमवार सुबह करीब 5.30 बजे वह बिना बताए घर से चला गया। करीब डेढ़ घंटे बाद घटनास्थल के पास रहने वालों ने लोगों ने चंदारी रेलवे लाइन पर बेटे के शव पड़े होने की जानकारी दी।

यह भी पढ़े - समाज कल्याण अधिकारी की बर्खास्तगी तय, पेंशन घोटाले के 65 लाख रुपये रिकवरी का आदेश

जिससे उन लोगों के होश उड़ गए। वह लोग मौके पर पहुंचे और देखा तो बेटे के सिर से खून बह रहा था। साथ ही हाथ व पैर में गंभीर चोटें थीं। उन्होंने बताया कि ट्रैकमैन नील भारद्वाज ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। चकेरी पुलिस के मुताबिक ट्रेन की चपेट में आने से मौत हुई है।

वहीं परिजन अब तक यह नहीं समझ पा रहे हैं कि वह ट्रैक पर कैसे पहुंच गया। पिता के अनुसार अंतिम संस्कार करने के बाद आसपास के सीसीटीवी फुटेज पुलिस से दिखवाए जाएंगे जिससे पता चल सके कि आखिर घटना के पीछे क्या कारण रहा है।

एक दिया तो दूसरे को छीन लिया

बेटी की मौत से दुखी पिता रवि कुमार पोस्टमार्टम हाउस में फफक पड़े। उनका कहना था कि इसी सावन के आखिरी सोमवार को उनके दूसरा बेटा हुआ था। जिसके बाद परिवार के लोग काफी खुश थे। सवा महीना भी नहीं बीता कि ईश्वर ने उनका बड़ा बेटा छीन लिया। 

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment