Kanpur News: दवा व्यापारी की निर्मम पिटाई पर भाजपा में दोफाड़, पचौरी और महाना समर्थक आमने-सामने आए

On

कानपुर में दवा व्यापारी की निर्मम पिटाई पर भाजपा में दोफाड़। सांसद सत्यदेव पचौरी और विधानसभा सतीश महाना के समर्थक आमने-सामने आए। महापौर भी विवाद में कूदीं है।

कानपुर: दवा व्यापारी अमोलदीप सिंह भाटिया की पिटाई कर लहुलुहान करने व आंख फोड़ने का मामला दिल्ली तक पहुंच गया है। पुलिस ने आरोपियों पर 25-25 हजार का इनाम रख दिया लेकिन किसी को पकड़ नहीं पाई। आरोपी भाजपा पार्षद पति और उसके गुर्गो की गिरफ्तारी के लिए धरना प्रदर्शन ज्ञापन देने का सिलसिला जारी हैं।

भाजपा का एक खेमा आरोपियों को बचाने में लगा है। इन्हें विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना का समर्थक बताया जा रहा है। इन लोगों ने मंगलवार देर शाम पुलिस आफिस घेर लिया था। दूसरी तरफ पीड़ित के पक्ष में सांसद सत्यदेव पचौरी खुलकर सामने आ गए हैं और आरोपियों की पैरवी करने वालों को फटकारा है। महापौर ने भी आरोपियों पर कार्रवाई के बजाए दोनों पक्षों को समझाने की बात कही है।

यह भी पढ़े - रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में बेल्हा की युवती की मौत, परिजन उत्तराखंड के लिए हुए रवाना

कानपुर में भाजपा दो खेमों में बंटती हुई दिखी है। हालांकि अधिकारिक तौर पर इसमें पार्टी का स्टैंड स्पष्ट नहीं है लेकिन उत्तर और दक्षिण जिलाध्यक्ष बंट गए हैं। दक्षिण अध्यक्ष की नरमदिली आरोपियों के पक्ष में बताई जाती है तो उत्तर जिलाध्यक्ष ने फोन ही उठाना बंद कर दिया। 

पुलिस पर दबाव बनाने वाले भाजपाई नहीं- पचौरी 

दवा व्यापारी की पिटाई प्रकरण पर सांसद सत्यदेव पचौरी ने आरोपी के पक्ष में दबाव बनाने वालों को भाजपा कार्यकर्ता मानने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि पीड़ित के बजाय आरोपी का साथ देने वाले भाजपा कार्यकर्ता नहीं हो सकते। वह प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी को घटना से अवगत कराएंगे। 

मीडिया से बातचीत करते हुए पचौरी ने कहा कि निर्मम पिटाई का यह मामला हत्या जैसे जघन्य अपराध से कम नहीं है और कुछ लोग आरोपी की पैरवी करने में जुट गए हैं। पचौरी ने कहा कि उन्होंने पुलिस कमिश्नर से कहा कि सत्य के आधार पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। आरोपियों पर 25-25 हजार रुपये का ईनाम रखने पर पुलिस कमिश्नर को बधाई भी दी।

उन्होंने कहा कि यूपी में योगी का शासन है अपराधी किसी भी कीमत पर नहीं बच पाएंगे। पुलिस कमिश्नर से कहा कि दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो और सत्य के आधार पर जांच हो। किसी के दबाव में आने की जरूरत नहीं है। प्रदेश अध्यक्ष को दोषियों के खिलाफ लिख रहा हूं।

राजनीतिक सवाल पर पचौरी ने कहा कि भाजपा में कोई दो फाड़ नहीं है। दूसरी ओर भाजपा कानपुर-बुन्देलखण्ड अल्पसंख्यक मोर्चा के क्षेत्रीय अध्यक्ष अजीत सिंह छाबड़ा सिख समाज के प्रतिनिधि मंडल के साथ सांसद से मिले और आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की। पचौरी ने उन्हें आश्वस्त किया कि किसी के साथ अन्याय नहीं होने देंगे।

अल्पसंख्यक आयोग अध्यक्ष को ज्ञापन

आम आदमी पार्टी के विधायक जनरैल सिंह ने अमोलदीप सिंह भाटिया के परिजनों के साथ ले जाकर दिल्ली में राष्ट्रीय अल्संख्यक आयोग के चेयरमैन इकबाल सिंह लालपुरा को ज्ञापन दिया। आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। यह खबर और फोटो सोशल मीडिया में वायरल भी किया गया।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment