UP के Kannauj में कोर्ट परिसर में चली गोली, फायरिंग से मचा हड़कंप, युवक ने ऐसे बचाई जान

On

कन्नौज में कोर्ट परिसर में हत्या के मुकदमें की तारीख लेने आए युवक पर दूसरे पक्ष से पहुंचे युवक ने तमंचे से फायरिंग कर दी। घटना से गुस्साए वकीलों ने युवक की जमकर धुनाई कर पुलिस को सौंप दिया।

कन्नौज। कन्नौज में शुक्रवार को कोर्ट परिसर में उस वक्त हड़कंप मच गया। जब एक आरोपी हत्या के मुकदमें की तारीख लेने आया था। इसी दौरान दूसरे पक्ष से पहुंचे युवक ने तमंचे से ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। हालांकि गोली चलते ही युवक झुक गया और गोली दीवार पर जा लगी। इससे वह बच गया। वहीं, गोली चलाने के बाद भाग रहे आरोपी को वकीलों ने पकड़ लिया। वकीलों ने आरोपी की जमकर पिटाई करने के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया।पुलिस घटना की जांच कर रही है और कोर्ट परिसर में भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है। 

शुक्रवार को जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर में उस समय हड़कंप मच गया, जब फास्ट ट्रैक कोर्ट द्वितीय के पास बने पुस्तकालय की तरफ से एक युवक ने कोर्ट में तारीख पर आए हत्यारोपी ग्राम भगतगाढ़ा निवासी चंदन यादव पुत्र कृपाल सिंह के ऊपर 315 बोर के तमंचे से फायर कर दिया। 

फायर के दौरान चंदन जमीन पर लेट गया और गोली सामने दीवार में जा धंसी। गोली चलने से कोर्ट परिसर में हड़कंप मच गया और अधिवक्ता अपने चेंबरों से बाहर निकल आए। वकीलों ने गोली चलाने वाले आदेश यादव पुत्र पिंटू निवासी कटरा को तमंचा समेत पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई कर दी। उसके पास से एक जीवित कारतूस और एक खोखा भी मिला है। भागते समय आदेश एक वकील की मेज से टकराकर गिर गया था।

घटना की जानकारी पाकर सीओ सिटी कमलेश कुमार, प्रभारी निरीक्षक विष्णुकांत तिवारी व कचहरी चौकी प्रभारी जसवंत सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और आरोपी आदेश को पकड़ कर कोतवाली ले आए। 

यह भी पढ़े - फर्रुखाबाद: गुरु के बिना कल्याण नहींl नीरज शास्त्री

हत्यारोपी चंदन ने बताया कि वह एफटीसी कोर्ट से तारीख लेकर अधिवक्ता चेंबर की तरफ जा रहा था, उसी समय उसके ऊपर जानलेवा हमला किया गया। प्रभारी निरीक्षक विष्णुकांत तिवारी ने बताया कि आरोपी को तमंचा समेत गिरफ्तार किया गया है, तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। 

वकीलों और पुलिस में हुई नोकझोंक

हमलावर आदेश यादव को पकड़ने के बाद अधिवक्ताओं ने उसकी जमकर पिटाई कर दी। मौके पर जब सीओ सिटी पहुंचे तो अधिवक्ताओं ने उन्हें घेर लिया और खरीखोटी सुनाई। बार एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष शिवांक बाजपेयी ने कहा कि 25 जनवरी को उन्होंने न्यायालय परिसर में सुरक्षा को लेकर एसपी को ज्ञापन दिया था, लेकिन उन्होंने कोई सुनवाई नहीं की।

यहां तक कि कोर्ट में लगा मेटल डिटेक्टर भी खराब है। ऐसे में वकीलों और वादकारियों की सुरक्षा भगवान भरोसे हैं। घटना के बाद वकीलों ने प्रभारी जिला जज लोकेश वरुण से मिलकर न्यायालय की सुरक्षा की मांग उठाई। वकीलों ने चेंबर परिसर में और गेट पर पुलिस बल तैनात करने की मांग की। इससे पहले वकीलों की पुलिस से काफी नोकझोंक हुई थी। 

पिता की हत्या का बदला लेना चाहता था आदेश

कोर्ट परिसर में तमंचे से फायर करने वाला आरोपी आदेश यादव अपने पिता पिंटू यादव की हत्या का बदला लेना चाहता था। पुलिस के मुताबिक 24 मई 2023 को सदर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम कटरा निवासी पिंटू यादव और ग्राम भगतगाढ़ा निवासी कृपाल सिंह के बीच झगड़ा हो गया था। 

इस घटना में मारपीट व फायरिंग हुई, जिसमें पिटाई से पिंटू की मौत हो गई थी। आदेश ने कृपाल सिंह के चारों बेटों शेखर, कल्लू, मुल्लू और चंदन के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इनमें तीन को जमानत मिल गई है, जबकि मुल्लू जिला कारागार में बंद है। इसी मामले में चंदन तारीख पर आया था तो आदेश ने बदला लेने के लिए घात लगाकर तमंचे से फायर कर दिया, जिससे वह बाल-बाल बच गया। 

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

ताजा समाचार