दूल्हा नहीं पहुंचा तो दुल्हन ने जीजा संग ले लिए सात फेरे, दो बच्चों के बाप ने मांग में भरा सिंदूर

On

UP News : उत्तर प्रदेश के झांसी में हैरान कर वाला मामला सामने आया है। मामला मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना से जुड़ा है। शादी के ऐन वक्त पर दूल्हे के नहीं आने पर दुल्हन ने जीजा संग सात फेरे ले लिए। पोल खुली तो आनन-फानन में दुल्हन ने अपनी मांग में भरा सिंदूर पोंछ डाला। उसके जीजा दो बच्चों का बाप है। उसने अपनी साली के मांग में सिंदूर भी भर दिया।

बताया जा रहा है कि झांसी में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में फर्जीवाड़ा हुआ है। मुख्यमंत्री सामूहिक कन्या विवाह योजना में जब एक दूल्हा समय से नहीं पहुंचा, तो दुल्हन ने अपने ही जीजा से शादी कर ली। जीजा भी वह जो पहले से दो बच्चों के पिता हैं। शादी विधि विधान से हो गई और जीजा ने अपनी साली के मांग में सिंदूर भरकर उसे पत्नी का स्थान दे दिया। लेकिन जैसे ही कार्यक्रम खत्म हुआ, दुल्हन ने मांग का सिंदूर साफ कर दिया।

यह भी पढ़े - फेसबुक पर दोस्ती के बाद शादी, फिर गैंगरेप, शादीशुदा युवक ने दोस्त के साथ मिलकर की दरिंदगी

बता दें कि झांसी के पॉलिटेक्निक मैदान पर सीएम सामूहिक विवाह समारोह चल रहा था। इसमें एक जोड़ा कुछ संदिग्ध दिख रहा था। इसका कारण लड़के और लड़की की उम्र में बड़ा अंतर था। जब जानकारी इकट्ठा की गई, तो पता चला की झांसी के बामोर निवासी खुशी की शादी छतरपुर मध्यप्रदेश के बृषभान के साथ तय हुई थी। समारोह में उनका रजिस्ट्रेशन 36 नंबर पर था, लेकिन समारोह में खुशी से शादी उसके जीजा दिनेश ने कर ली। दिनेश का दावा है कि विभाग के कुछ लोगों के कहने पर वह दूल्हे की जगह बैठ गया। खुशी ने भी कहा कि दूल्हा नहीं पहुंचा, तो उसने अपने ही जीजा से शादी कर ली। इस मामले की चर्चा होने के बाद प्रशासन में हडंकंप मच गया है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts