गोंडा: मधुमक्खियों के हमले ने दो मासूम बच्चों की जान ले ली

On

मनकापुर, गोंडा: दादी के साथ कोटेदार के यहां राशन लेने जा रहे दो बच्चों पर मधुमक्खियों के झुंड ने हमला बोल दिया। हमले से दोनों बच्चों की मौत हो गई, बच्चों को बचाने दौड़ी दादी को भी मधुमक्खियों ने काट कर घायल कर दिया। उनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

ब्लाक क्षेत्र के ग्राम मदनापुर भान निवासी विश्वनाथ शुक्ला की माता उत्तम शुक्ला सोमवार शाम चार बजे गांव के कोटेदार हंसराज के यहां राशन लेने के लिए जा रही थी। उनका पोता योगेश शुक्ला (6) व युग शुक्ला (4) दादी के साथ चलने के लिए जिद करने लगे। दादी ने बच्चों की जिद को मानते हुए दोनों को साथ लेकर जाने लगीं। रास्ते में घर से करीब पांच सौ मीटर दूरी पर पहुंचते ही अचानक मधुमखियों के झुंड ने हमला बोल दिया, जिससे दोनों नौनिहाल छटपटाने लगे। 

यह भी पढ़े - International Yoga Day: राम की पैड़ी पर हुआ मुख्य आयोजन,पूर्वजों की भारतीय चिकित्सकीय पद्धति है योग- मंत्री जयवीर सिंह

देख कर तुरंत बच्चों की दादी बचाने दौड़ी तो उन्हें भी मधुमक्खियों ने डंक मार कर उन्हें भी घायल कर दिया। शोर सुनकर गांव वालों ने दौड़कर किसी तरह मधुमक्खियों को भगाया और घायल तीनों लोगों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनकापुर लाया गया। जहाँ डॉक्टरों ने विश्वनाथ के बड़े लड़के युग शुक्ला को मृत घोषित कर दिया और योगेश व दादी को प्राथमिक उपचार कर जिला मुख्यालय रेफर कर दिया। 

जिला अस्पताल जाते समय रास्ते में योगेश ने भी दम तोड़ दिया और महिला का इलाज जिला अस्पताल में जारी है। दोनों बच्चों की मौत की खबर सुनते ही परिजनों पर दुःख का पहाड़ टूट पड़ा और कोहराम मच गया। मृतक बच्चों की मां रह रह कर बेहोश हो जाती है। शोकाकुल परिवार को गांव वाले ढांढस बंधाने में लगे हैं। जो भी इस मार्मिक घटना के बारे में सुनता है। वह हतप्रभ हो जाता है। मृतक दोनों बच्चों के पिता विश्वनाथ शुक्ला दिल्ली में रोजी रोजगार करता है।

बड़े लड़के युग शुक्ला और योगेश शुक्ला को प्राईवेट स्कूल में दाखिला दिला कर पढ़ाई कराता था। खेती के नाम पर दो बीघा खेत मात्र है। किसी तरह- परिवार का गुजारा चलता है। मृतक लड़के की माता श्यामा देवी युग व योगेश को बार-बार जोर से नाम पुकार कर रोने लगती है और बेहोश हो कर गिर पड़ती है। आस-पास की महिलाओं ने उन्हें संभालते हुए ईश्वर की इच्छा बता कर ढांढस बंधाती हैं। पूरे गांव में मातम फैला हुआ है। 

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment