गाजीपुर जेल में रची गई हत्या की साजिश : प्रधानी के चुनाव में रोड़ा थे सपा नेता अमलधारी यादव, पढ़े पूरी कहानी।

On

Ghazipur News : जनपद के नंदगंज पुलिस ने 31 जनवरी को सपा नेता अमलधारी यादव हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने हत्या में शामिल तीन आराेपियों को फोरलेन धामूपुर हाइवे से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए लोगों में एक महिला भी शामिल है। पुलिस ने उनके कब्जे से दो तमंचे, पांच कारतूस और घटना में प्रयुक्त कार बरामद की है।

क्या है पूरा मामला

बताते चलें कि 31 जनवरी को अतरसुआ गांव निवासी सपा नेता अमलधारी यादव की हाइवे पर बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस संबंध में नंदगंज थाने में नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया था। घटना के दिन सपा कार्यकर्ताओं ने हमलवारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हाइवे जाम कर दिया था। घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक ओमवीर सिंह पहुंचे थे। उन्होंने गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की थी। मुखबिर की सूचना पर थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह और उपनिरीक्षक अनिल कुमार मिश्रा ने टीम के साथ घेराबंदी कर धामूपुर हाइवे कट के पास से कार सवार एक महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए बदमाशों के पास से दो तमंचा और पांच कारतूस बरामद हुआ है। गिरफ्तार आरोपियो में सिहोरी निवासी विशाल पासी की पत्नी विमला देवी, भुड़कुड़ा के झोटना निवासी पंकज सिंह उर्फ राजू तथा सिहोरी निवासी अमरजीत पासी शामिल हैं।

यह भी पढ़े - राजस्व विभाग के विकास कार्यों की हुई समीक्षा, डीएम का सख्त निर्देश : जिन विभाग की कार्य प्रगति की रैंकिंग खराब है वह अगले महीने में अच्छा रैंकिंग हो वर्ना होगी जवाब देही

प्रधानी के चुनाव में रोड़ा थे अमलधारी यादव

पुलिस कप्तान ओमवीर सिंह ने बताया कि पूछताछ के दौरान पता चला कि हत्याकांड में नामजद आरोपी विशाल पासी के जेल में रहने के दौरान अमरजीत पासी और पंकज सिंह भी जेल में एक ही बैरक में निरुद्ध थे। वहां विशाल पासी ने साथी अभियुक्तों को जेल से छुड़ाने के साथ ही आर्थिक मदद की थी। इसलिए अमरजीत पासी और पंकज सिंह विशाल पासी का एहसान मानते थे। उसके लिये वे कुछ भी करने के लिए तैयार थे। विशाल पासी मृतक अमलधारी यादव को अपने ग्राम प्रधानी के रास्ते का सबसे बड़ा रोड़ा मानता था। इसलिये वह किसी भी तरह से उसे रास्ते से हटाना चाहता था। इसके लिए पूर्व में ही योजना बनायी थी। योजना के मुताबिक, विशाल पासी अपने साथी पंकज सिंह, अमरजीत पासी तथा सिहोरी निवासी विनय राय उर्फ भोलू के साथ मिलकर गाजीपुर से अतरसुआ जा रहे बाइक सवार अमलधारी यादव की गोली मारकर हत्या कर दी थी। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में आरक्षी अंकित सिंह, सन्तोष कुमार मौर्य, सोनू कुमार, राजेश कुमार तथा महिला आरक्षी ऋचा श्रीवास्तव शामिल रहीं।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts