Fatehpur Crime News: हत्या का मुख्य आरोपी चचेरा देवर गिरफ्तार, सऊदी में बैठे पति ने भाई को पत्नी की सुपारी दी थी

On

फतेहपुर: भाभी के साथ साथियों संग सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या में फरार मुख्य आरोपी चचेरे देवर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सउदी से तीन लाख रुपये में पति ने चचेरे भाई को पत्नी की हत्या की सुपारी दी थी। हत्याकांड में चार सह आरोपी को पहले जेल जा चुके हैं। अब मामले में सउदी अरब से पति को लाने की तैयारी करेगी। 

गाजीपुर थानाक्षेत्र के एक गांव की रहने वाली महिला की शादी करीब डेढ़ साल पहले राधानगर थाना क्षेत्र के बीबीपुर निवासी छोटू लोधी के साथ हुई थी। अवैध संबंधों के शक पर सउदी से छोटू ने पत्नी की हत्या की साजिश रची थी। महिला 15 जनवरी को लापता हो गई थी। उसका ललौली थाना क्षेत्र के जिंदपुर स्थित निर्माणाधीन मकान के सेफ्टिक टैंक से 20 जनवरी को शव मिला था।

यह भी पढ़े - कुछ सभासदों का आक्रोश स्वाभाविक, मिल बैठकर होगा समस्याओं का समाधान- नेहा वर्मा

पुलिस ने हत्या में शामिल राधानगर निवासी रोहित लोधी, बीबीपुर निवासी रामचंद्र, सैदाबाग निवासी शिवम उर्फ पंचम, सोनू लोधी को जेल भेजकर पर्दाफाश किया था। आरोपियों से घटना का मास्टरमाइंड मृतका का बीबीपुर निवासी चचेरा देवर ननकू लोधी उर्फ सूरज के होने का पता लगा था। पुलिस ने लदिगवां के पास से सोमवार को ननकू को गिरफ्तार किया है।

पुलिस की पूछताछ में ननकू ने कबूला किया सउदी में नौकरी करने वाले चचेरे भाई छोटू लोधी ने तीन माह पहले अपनी पत्नी की हत्या कराने की फोन पर बात की थी। बदले में तीन लाख की सुपारी दी थी। उसने हत्याकांड को अंजाम देने के लिए बाकी चार साथियों को इकट्ठा किया। वह साथियों संग भाभी के गांव 15 जनवरी को पहुंचा था।

मेला दिखाने के बहाने से भाभी को गांव से ले गया था। उसने कंचन किराना स्टोर भिखारीपुर की दुकान का क्यूआर कोड छोटू भेजा। छोटू ने तीन बार में 17 हजार एक रुपये भेजा था। भाभी को जिंदपुर स्थित निर्माणाधीन मकान में ले गया। जहां सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या कर भाग निकले थे। करीब रात नौ बजे हत्या के बाद शराब पीने गाजीपुर बस स्टैंड पहुंचे।

अंग्रेजी शराब दुकान में एक हजार रुपये छोटू से ही ट्रांसफर कराए। उसी दिन ग्राहक सेवा केंद्र अंदौली पुलिया पर भी 500 रुपये छोटू से मंगवाए थे। छोटू से सुपारी का एक लाख रुपये 23 जनवरी और बाकी रुपये बाद में देने की बात तय हुई थी। छोटू ने 23 जनवरी को एक लाख रुपये नहीं भेजे। प्रभारी निरीक्षक तारकेश्वर राय ने बताया कि आरोपी को जेल भेजा गया है। पत्नी की हत्या के साजिशकर्ता छोटू को सउदी से बुलाने की कोशिश शुरू की गई है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts