बरेली: छात्रा से छेड़छाड़ के आरोपी शिक्षक पर FIR, गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी

On

बरेली,बलिया तक: बरेली जिला मुख्यालय के सीबीगंज थाना क्षेत्र में एक इंटर कालेज के अध्यापक ने अनुसूचित जाति (दलित) की एक नाबालिग छात्रा के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ की। पुलिस ने यह जानकारी दी। उसने सोमवार को बताया कि फतेहगंज पश्चिमी थाना क्षेत्र के खरका गांव के आरोपी अध्यापक नरेश पाल गंगवार के खिलाफ सीबीगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

पुलिस अधीक्षक (नगर) राहुल भाटी ने बताया कि आरोपी शिक्षक नरेश पाल गंगवार के खिलाफ धाराओं 354 (शील भंग के इरादे से हमला), 342 (जबरन प्रतिबंधित), 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना), 504 (शांति भंग के इरादे से जानबूझकर अपमान), 506 (आपराधिक धमकी) के अतिरिक्त अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति निवारण अधिनियम और लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम (पाक्सो) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े - नहीं रहे सकरपुरा इंटर कालेज के पूर्व प्रवक्ता विनय पाठक, शोक की लहर

भाटी ने बताया कि आरोपी शिक्षक की गिरफ्तारी के लिए तीन टीम गठित की गयी हैं। इस बीच आरोपी शिक्षक को सोमवार को जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआईओएस) ने निलंबित कर दिया है। पुलिस के अनुसार सीबीगंज क्षेत्र की रहने वाली कक्षा सात की 13 वर्षीय एक दलित छात्रा चार सितंबर को इंटर कॉलेज में परीक्षा देने गई थी, इसी दौरान नरेश पाल गंगवार ने उसे अपने कमरे में बुलाया और अंदर से दरवाजा बंद कर उसके साथ छेड़छाड़ की।

पुलिस के मुताबिक आरोपी ने विरोध करने पर पीड़िता को पीटा तथा इस घटना के बारे में किसी को बताने पर उसे फेल कराने, जान से मारने की धमकी दी और जातिसूचक शब्दों से अपमानित किया। पुलिस का कहना है कि शनिवार को छात्रा के पिता ने इस शिक्षक के खिलाफ थाने में बेटी के साथ हुईं छेड़छाड़, मारपीट कर जान से मारने की धमकी देने की तहरीर दी थी। इसके पहले पीड़िता ने कॉलेज के प्रधानाचार्य से लिखित शिकायत की थी। कॉलेज प्रबंधन ने शिक्षक नरेश पाल गंगवार को नोटिस जारी कर उसका जवाब तलब किया।

कालेज प्रशासन ने बताया कि शिक्षक का जवाब आने के बाद इसकी लिखित रिपोर्ट डीआईओएस को दी गई, इसके बाद डीआईओएस ने जांच टीम गठित की और शिक्षक को निलंबित कर दिया है। सीबीगंज के थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी शिक्षक पहले भी दो छात्राओं के साथ छेड़छाड़ कर चुका था। उनके अनुसार नरेश पाल गंगवार ने पहले भी स्कूल से निकलवाने की धमकी देकर छात्राओं के साथ अमर्यादित व्यवहार किया था, लेकिन जब मामले की शिकायत घर वालों तक पहुंची, तब माफी मांग कर छूट गया था।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment