Bareilly News: कमरे में सो रहे पति-पत्नी और 3 बच्चों की जलकर मौत, सीएम योगी ने जताया दुःख

On

यूपी के बरेली में फरीदपुर कस्बा में एक ही परिवार के पांच लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई. मरने वालों में पति-पत्नी और उनके तीन मासूम बच्चे हैं. पांच लोग एक कमरे में सो रहे थे. रविवार तड़के सुबह धुआं उठता देखा तो आसपास के लोगों ने पुलिस और फायर बिग्रेड को सूचना दी. घटना की जानकारी पर फोर्स के साथ पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए. टीम अंदर पहुंची तो वहां सभी की मौत हो चुकी थी.मपुलिस को आशंका है कि शॉर्ट सर्किट या किन्हीं अन्य कारण से घर में आग लग गई. परिवार सो रहा था ऐसे में शायद उन्हें जब तक पता चला तब तक आग विकराल रूप ले चुकी थी और वह बाहर नहीं निकल पाए. एक और आशंका यह भी है कि कमरे में धुआं भरने के चलते सभी की मौत हो गई. हालांकि, पुलिस अन्य एंगल पर भी जांच शुरू कर दी है. जानकारी के मुताबिक अजय गुप्ता उर्फ टिंकल हलवाई थे. वह अपने परिवार के साथ तीन वर्ष से फरीदपुर के मोहल्ला फर्रखपुर में रिश्तेदार के मकान में किराये पर रहते थे. पुलिस के मुताबिक मृतकों में अजय गुप्ता उर्फ टिंकल (36), उनकी पत्नी अनीता गुप्ता (34) और 3 बच्चे-दिव्यांश (9), दिव्यांग्या (6 ) और छोटा बेटा दक्ष (3) हैं. पूरा परिवार शनिवार की रात में कमरे में सोया हुआ था. कमरे में हीटर चलने की बात भी सामने आ रही है. सुबह पड़ोस के रहने वाले युवक ने देखा तो दरवाजा बंद था. घर से धुआं उठ रहा था. इसके बाद उसने आस-पास के लोगों को इसके बारे में बताया. देखते ही देखते आस-पास के लोगों को भीड़ जुट गई. फिर पुलिस को सूचना दी. सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर सभी को बाहर निकाला.

पड़ोसी ने दी यह जानकारी

पड़ोसी का कहना है कि रात में ही अजय गुप्ता मिले थे. रात में खाना खाकर परिवार सो गया था. हम लोगों को आग लगने की भनक तक नहीं मिली. न ही किसी के चीखने-चिल्लाने की आवाज आई. सुबह उठा तो देखा अजय के घर के बाहर लोगों की भीड़ लगी हुई. लोगों से पूछा तो उन्होंने बताया कि आग लगने की सभी की मौत हो गई है. वहीं फोरेंसिक टीम की जांच में सामने आया है कि अजय गुप्ता के मकान में 2 कमरे हैं. जिस कमरे में परिवार सोया हुआ था. उस कमरे में दो लोहे के हीटर बिजली के बोर्ड में लगे हुए मिले हैं. कमरे का लकड़ी का दरवाजा है. उसमें अंदर कुंडी नहीं थी. रात में परिवार अंदर से हाथ डालकर बाहर से कुंडी लगा देता था. पड़ोस में रहने वाले राजेश ने पुलिस को बताया कि अजय से हमने कई बार कहा था जिस कमरे में सोते हो उसमें अंदर से कुंडी लगवा लो.

यह भी पढ़े - Road Accident in Ballia : पेड़ से टकराई बारातियों से भरी पिकअप, एक की मौत ; तीन रेफर

सीएम योगी ने जताया दुःख

फोरेंसिक टीम हीटर में शॉर्ट सर्किट से ही कमरे में आग लगना मान रही है. वजह है कि एक हीटर का वायर जला हुआ था. सभी के चेहरा काले पड़े मिले हैं. कपड़े जलकर शरीर से चिपक गए हैं. कमरे में रखा सारा सामान जल गया था. मंजर इतना भयावह था कि लोगों की रूह कांप गई. अजय गुप्ता, उसकी पत्नी और बच्चों के शव दरवाजे के पास नहीं मिले हैं. इससे पुलिस और फोरेंसिक टीम मान रही है कि आग लगने पर भागने का प्रयास या दरवाजा खोलने का प्रयास नहीं किया. दर्दनाक घटना की जानकारी मिलते ही एसएसपी घुले सुशील चंद्रभान समेत तमाम अधिकारी मौके पर पहुंच गए. आसपास के लोगों से जानकारी की. एसडीएम, तहसीलदार के साथ नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी डॉ नितिन कुमार गंगवार भी घटनास्थल पर पहुंचे. कमरे में गैस सिलिंडर रखा मिला है. घटना के बाद से मृतकों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. वहीं एसपी देहात बरेली मुकेश चंद्र मिश्र ने कहा कि घटनास्थल पर जांच पड़ताल की जा रही है. फोरेंसिक टीम मौके पर है. वहीं सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दुर्घटना में हुई जनहानि पर दुःख जताते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं. साथ ही संबंधित अधिकारियों को घायलों के समुचित उपचार के निर्देश दिए हैं.

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts