Mukhtar Ansari Death: साल 2023 रमजान माह में माफिया अतीक...2024 में मुख्तार अंसारी की मौत, CM Yogi घटनाक्रम की कर रहे मॉनिटरिंग

On

बांदा। मुख्तार अंसारी की एक बार फिर तबीयत बिगड़ गई है, जिसके चलते उसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज ले जाया गया है। मुख्तार की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो चुकी है।

IMG_20240328_235914

download

मुख्तार अंसारी की एक बार फिर से जेल में तबीयत बिगड़ गई है, जिसके चलते उसे इलाज के लिए पुनः मेडिकल कॉलेज ले जाया गया है। सूत्रों के हवाले से मुख्तार को दिल का दौरा पड़ने की खबर मिल रही है। बता दें, बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी की सोमवार रात अचानक हालत बिगड़ गई थी जिसके बाद उसे मंगलवार को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। 14 घंटे तक भर्ती रहने के दौरान उसकी 10 से ज्यादा जांचे की गई जो नॉर्मल आई थी।

यह भी पढ़े - Raebareli: निःशुल्क चिकित्सा स्वास्थ्य शिविर 21 अप्रैल को

रिपोर्ट मिलने के बाद मुख्तार को वापिस जेल में शिफ्ट कर दिया गया था। लेकिन आज जब वह जेल की बैरक में बैठा हुआ था, उसे कार्डियक अटैक आ गया, जिसके बाद उसे आनन-फानन में डॉक्टरों ने जेल में ही प्राथमिक उपचार दिया। इसके बाद मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज जारी है। वहीं मुख्तार के वकील नसीम हैदर ने बताया कि मुख्तार को अभी तक होश नही आया है। ताजा अपडेट में, सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि मुख्तार अंसारी को आईसीयू से हटाकर सीसीयू में शिफ्ट किया गया है और नौ डॉक्टरों की टीम उसका इलाज करने में जुटी हुई है।

download (1)

छावनी में तब्दील हुआ मेडिकल कॉलेज

मुख्तार अंसारी का मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। अस्पताल के बाहर भारी पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है, जिसके चलते मेडिकल कॉलेज छावनी में तब्दील हो चुका है। मौके पर डीएम दुर्गा शक्ति नागपाल और एसपी अंकुर अग्रवाल भी मौजूद हैं। वहीं मौके पर पैरामिलिट्री फोर्स को भी तैनात कर दिया गया है। मेडिकल कॉलेज के दोनो गेट पुलिस की सुरक्षा में हैं। 

मुख्तार अंसारी के मौत की हुई पुष्टि

Clipboard (53)

मुख्तार अंसारी को ले जाते दिखे पुलिसकर्मी

4 (4)

भारी पुलिस बल और पैरामिलिट्री फोर्स तैनात

download (2)

कानपुर के चौराहों पर अचानक पुलिस चौकस

कानपुर। यूपी के माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की मौत की खबर के बाद सरकार ने पूरे प्रदेश को हाई अलर्ट कर दिया है। मुख्तार के प्रभाव वाले जनपदों, मऊ, आजमगढ़, गाजीपुर के साथ-साथ वाराणसी, चंदौली, कानपुर, लखनऊ, बांदा में अतिरिक्त सुरक्षा इंतजाम के निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

आदेश के तुरंत बाद रात दस बजे कानपुर के चौराहों पर पुलिस तैनात हो गई है। मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में पैरामिलिट्री फोर्स की तैनाती है।

इस बारे में कानपुर के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर विपिन मिश्रा का कहना है कि शुक्रवार को रमजान में जुमे की नमाज के मद्देनजर सुरक्षा इंतजाम चौकस किए गए हैं। नमाज के 12 घंटे पहले सुरक्षा इंतजाम तगड़े कर दिए गए हैं। साथ ही पुलिस फोर्स ने गाड़ियों से मार्च करना शुरू कर दिया है।

पूरे उत्तर प्रदेश में लगाई गई धारा 144

रात को 2:30 बजे बाँदा अस्पताल पर पहुचेगा मुख्तार का परिवार

रात में  परिवार के सामने ही वीडियोग्राफी करा के होगा पोस्टमार्टम

6 (2)

इसके बाद शव को गाजीपुर ले जाया जाएगा।

शव को ले जाने का रूट प्लान हुआ तैयार

काफिले में शामिल रहेगी 26 गाड़ियां

सोशल मीडिया पर पुलिस की नजर

आपत्तिजनक पोस्ट करने वालों पर होगी कड़ी कार्यवाही-पुलिस

मुख़्तार के ग़ाज़ीपुर निवास के बाहर भीड़ लगने लगी है

6 (3)

लखनऊ

5 केडी मुख्यमंत्री आवास पर बड़ी बैठक चल रही है। बैठक में कार्यवाहक डीजीपी प्रशांत कुमार, एडीजी एलओ अमिताभ यश मौजूद है। मुख्यमंत्री आवास से घटनाक्रम पर पैनी नजर रखी जा रही है। लखनऊ सहित पूरे प्रदेश में सेंसिटिव जगहों पर पुलिस की पैनी नजर, सोशल मीडिया पर कोई अफवाह न फैले इस पर भी डीजीपी मुख्यालय से नजर रखने के निर्देश दिए।

सूत्रों के हवाले से मुख्तार का बड़ा बेटा अब्बास अंसारी कासगंज जेल में है। अब्बास को पुलिस सुरक्षा में मुख़्तार की आख़िरी रस्म के लिए लाया जाएगा।

मुख्तार अंसारी की मौत रमजान के दौरान हुई है। पिछले साल अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की भी हत्या रमजान के दौरान ही हुई थी। 

समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल से किया गया ट्वीट

IMG-20240328-WA0031

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment