Tragic accident in Ballia: खेलते समय कार की टक्कर से मासूम की मौत, मां-बाप का इकलौता चिराग था सत्यम

On

Ballia News: रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के चिंतामणिपुर गांव में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां तीन साल के मासूम की कार में दम घुटने से मौत हो गई.

Ballia News: रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के चिंतामणिपुर गांव में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां तीन साल के मासूम की कार में दम घुटने से मौत हो गई. मासूम ने कार में खेलते समय दरवाजा बंद कर लिया था। इस हृदयविदारक घटना से हर कोई सदमे में है. वहीं, परिवार में कोहराम मचा हुआ है.

चिंतामणिपुर गांव निवासी सोनू कुमार का भाई मोनू कार चलाता है। गुरुवार की शाम वह दरवाजे पर कार खड़ी कर घर चला गया। इस दौरान मोनू कार का दरवाजा लॉक करना भूल गया। इसी बीच सोनू का तीन साल का बेटा सत्यम खेल-खेल में कार का दरवाजा खोलकर अंदर चला गया और दरवाजा लॉक हो गया। दुर्भाग्य से इस बात पर किसी का ध्यान नहीं गया और बंद कार में दम घुटने से सत्यम बेहोश हो गया.

यह भी पढ़े - Ballia News: दवा की दुकानों से लिए आठ नमूने

उधर, कुछ देर बाद सत्यम को न देख परिजन परेशान हो गए और खोजबीन शुरू कर दी। परिजन लाड़ली को तलाशते हुए कार के पास पहुंचे तो देखा कि सत्यम अंदर बेहोश पड़ा है। बेहोश सत्यम को आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रसड़ा (CHC RASRA) ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस अप्रत्याशित घटना से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.

सत्यम अपने माता-पिता का इकलौता चिराग था। सत्यम की मां सरिता की इच्छा दो बेटियों के बाद पूरी हो गई। सत्यम की आठ वर्षीय बहन अलीशा और छह वर्षीय चांदनी अपने आंसू नहीं रोक पा रही थीं। वहीं बेटे की मौत से पिता बार-बार खुद को कोसते रहे. मां सरिता सत्यम को याद कर बेहोश हो जा रही है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment