सिपाही का शव आते ही रो पड़ा बलिया का ये गांव, गोरखपुर में तैनात थे अजय

On

Ballia News: गोरखपुर में तैनात सिपाही का शव पहुंचते ही पैतृक गांव खेजुरी में कोहराम मच गया. बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्र हो गए।

Ballia News: गोरखपुर में तैनात सिपाही का शव पहुंचते ही पैतृक गांव खेजुरी में कोहराम मच गया. बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्र हो गए। परिजनों के करुण क्रंदन से वहां मौजूद सभी लोगों की आंखें नम हो गईं। रोते-बिलखते परिजनों को ढांढस बंधाते हुए लोग खुद भी सिसकने लगे। उनका अंतिम संस्कार गांव के श्मशान घाट पर किया गया, जहां पिता अरविंद सिंह ने मुखाग्नि दी.

खेजुरी थाना क्षेत्र के खेजुरी गांव निवासी अरविंद सिंह के पुत्र रण अजय बहादुर सिंह (38) उत्तर प्रदेश पुलिस (यूपीपी) में सिपाही के पद पर कार्यरत थे. उनकी पोस्टिंग गोरखपुर पुलिस लाइन में थी. बताया जा रहा है कि रण अजय बहादुर सिंह के पेट में एक हफ्ते पहले अचानक तेज दर्द हुआ तो साथी जवान उन्हें अस्पताल ले गए. बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मंगलवार की सुबह उनकी मौत हो गई।

यह भी पढ़े - औषधि विभाग की टीम ने की छापेमारी, लिए छह नमूने

जवान बेटे की मौत की खबर मिलते ही न सिर्फ परिवार बल्कि पूरे गांव में मातम छा गया. हर तरफ मातमी सन्नाटा पसर गया. परिवार के लोग गोरखपुर पहुंचे। वहां से बुधवार सुबह शव गांव पहुंचा तो कोहराम मच गया। मां कुसुमावती देवी, पत्नी अंजनी सिंह और दोनों बेटे अवनेंद्र व अनमोल का रो-रोकर बुरा हाल था।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment