बलिया के बैरिया तहसीलदार के खिलाफ सरकार ने बैठाई जांच, क्या है। पूरा मामला

On

बलिया: भूमि विवाद का निपटारा न करने और भू-माफियाओं को शह देकर जमीन पर कब्जा कराने के आरोप में बैरिया के तहसीलदार सुदर्शन कुमार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों ।

बलिया: भूमि विवाद का निपटारा न करने और भू-माफियाओं को शह देकर जमीन पर कब्जा कराने के आरोप में बैरिया के तहसीलदार सुदर्शन कुमार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए सरकार ने एक टीम गठित कर दी है.उत्तर प्रदेश शासन के अनु सचिव धनश्याम चतुर्वेदी ने शुक्रवार को राजस्व परिषद के आयुक्त एवं सचिव को पत्र जारी कर इस संबंध में निर्देश दिये हैं.

पत्र में अवर सचिव ने उल्लेख किया है कि विधायक मनीष कुमार जयसवाल मंटू और रविदास मेहरोत्रा ने बलिया तहसील बैरिया के तहसीलदार सुदर्शन कुमार पर भू-माफियाओं को शह देकर जमीन पर कब्जा कराने और उनके द्वारा धन उगाही और भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया था. जून को मुख्यमंत्री को संबोधित पत्र में तहसीलदार सुदर्शन कुमार के खिलाफ भू-माफियाओं को शह देकर जमीन पर कब्जा कराने और धनउगाही कर भ्रष्टाचार करने की शिकायत की गई है। इससे पहले 12 जून को सांसद जगदंबिका पाल ने मुख्यमंत्री को संबोधित शिकायती पत्र में बैरिया तहसीलदार पर भू-माफियाओं को संरक्षण देने और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगाया था. अवर सचिव ने कहा कि इसे देखते हुए तहसीलदार सुदर्शन कुमार एक जांच टीम का गठन करें और की गयी कार्रवाई से अवगत करायें.

यह भी पढ़े - Ballia News: जिलाधिकारी ने योग सप्ताह के लिए की बैठक

बैरिया थाना क्षेत्र के जमालपुर गांव निवासी एक व्यक्ति ने तहसीलदार पर जमीन की पैमाइश नहीं करने देने और भू-माफियाओं को मदद करने तथा भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था. जिसके आधार पर दो विधायकों और एक सांसद ने मुख्यमंत्री से तहसीलदार के खिलाफ लिखित शिकायत की थी.

शासन से अभी तक कोई पत्र नहीं मिला है। पत्र मिलने पर शासन के निर्देशानुसार कार्रवाई की जाएगी। -अत्रेय मिश्र, एसडीएम, बैरिया

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment