बलिया: खेलते समय फांसी लगाने का अभिनय कर रहे किशोर की फंदे से लटककर मौत

On

बलिया। उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के माधोपुर गांव में खेलते समय फांसी लगाने का अभिनय कर रहे 13 वर्षीय किशोर की फंदे से लटककर मौत हो गई। रसड़ा के पुलिस उपाधीक्षक मोहम्मद फहीम कुरैशी ने शनिवार को बताया कि माधोपुर गांव में शुक्रवार शाम कुछ बच्चे आपस में खेल रहे थे, तभी आनंद का अपने छोटे भाई डेविड से विवाद हो गया। 

कुरैशी ने प्राप्त जानकारी के हवाले से कहा कि विवाद के बाद आनंद फांसी लगाने का अभिनय करने लगा, उसने पास में रखी गिट्टी के बोरे का सहारा लिया और पेड़ पर चढ़ गया। जानकारी के मुताबिक, आनंद ने पेड़ की डाल पर गमछे का फंदा बनाकर अपना सिर उसमें डाल दिया, तभी उसका पैर फिसल गया और संतुलन बिगड़ने के कारण वह फंदे से लटक गया।

यह भी पढ़े - योग शारीरिक एवं मानसिक विकारों को करता है दूर - योगाचार्या सन्नो दुबे

कुरैशी के अनुसार, यह देख बच्चों ने शोर मचाया तो ग्रामीण मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक आनंद की मौत हो चुकी थी। बलिया-लखनऊ राजमार्ग पर स्थित दलित बहुल माधोपुर गांव में इस घटना के बाद शोक की लहर दौड़ गई।

कुरैशी ने बताया कि आनंद अमहर स्थित एक निजी विद्यालय में कक्षा पांच का छात्र था। घटना के समय उसके पिता छोटे लाल मजदूरी करने, जबकि मां बकरी चराने गई हुई थी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment