बलिया में छुड़ाए गए सांप, 9 में से आठ थे कोबरा किंग!

On

बैरिया, बलिया: सोमवार की शाम बैरिया थाना क्षेत्र के कोटवा अस्पताल मोड़ पर बहादुर सेठ के घर के एक कमरे में एक बक्से में बंद 9 सांपों को वन विभाग की टीम ने सांप पकड़ने वाले विशेषज्ञ की मदद से मुक्त कराया।

बैरिया, बलिया: सोमवार की शाम बैरिया थाना क्षेत्र के कोटवा अस्पताल मोड़ पर बहादुर सेठ के घर के एक कमरे में एक बक्से में बंद 9 सांपों को वन विभाग की टीम ने सांप पकड़ने वाले विशेषज्ञ की मदद से मुक्त कराया। कोबरा किंग नाम के 9 सांपों में से आठ की मौत हो चुकी थी. जीवित सांप रसेल वाइपर था, जिसे वन विभाग की टीम ने सरयू नदी के किनारे जंगल में छोड़ दिया.

बता दें कि तालिबपुर निवासी बरमेश्वर साधु उर्फ बरमेश्वर वर्मा इलाके के लोगों के घरों से सांप पकड़कर डिब्बे में बंद करके रखते थे. बाद में वह उन्हें जंगल में छोड़ देता था। बरमेश्वर साधु उर्फ बरमेश्वर वर्मा को पुलिस ने 29 मई को एक बच्चे के साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म के आरोप में धारा 377 और पाक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. तभी से बहादुर सेठ के घर का वह कमरा, जिसमें साँपों को रखा जाता था, किराये पर दे दिया गया।

उसमें ताला बंद था। ग्रामीणों के हस्तक्षेप के बाद सोमवार को वन विभाग ने स्थानीय पुलिस की मौजूदगी में कमरे का ताला खुलवाया और विशेषज्ञों की मदद से सांपों को बाहर निकाला. जिसमें आठ सांपों की मौत हो गई. एक जीवित था. वन विभाग की टीम में वन क्षेत्राधिकारी राजेश श्रीवास्तव, वन दरोगा नागेंद्र सिंह, जय शंकर वर्मा, सर्प विशेषज्ञ विक्रम वर्मा एवं स्थानीय पुलिस वन विभाग के कर्मचारी मौजूद रहे। इस मौके पर वन क्षेत्र पदाधिकारी राजेश श्रीवास्तव ने बताया कि घर में सांप पालना गैरकानूनी है. इस अपराध के लिए सुसंगत धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाएगी.

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

ताजा समाचार