पुरानी पेंशन को लेकर धरना : सरकार के खिलाफ बलिया समाहरणालय में जमा हुए शिक्षक व कर्मचारी

On

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पर आयोजित धरने में कर्मचारी नेताओं ने गीतों के माध्यम से जोश भरने का भी प्रयास किया

बलिया। नई पेंशन व पुरानी पेंशन बहाल करने के लिए शिक्षक कर्मचारी मंगलवार को जिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए. बड़ी संख्या में जुटे कर्मचारियों ने सरकार को चेतावनी दी कि अगर पुरानी पेंशन बहाल नहीं की गई तो आंदोलन और तेज किया जाएगा।

पुरानी पेंशन को लेकर जिले के तमाम कर्मचारी संगठन एकजुट नजर आए। कलेक्ट्रेट परिसर के धरना स्थल पर लगभग सभी संगठनों के पदाधिकारी व सदस्य पहुंच चुके थे. नई पेंशन योजना के खिलाफ कर्मचारियों में काफी रोष देखने को मिला। हजारों कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

कर्मचारी नेताओं ने धरना सभा को संबोधित करते हुए सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किए। कहा कि नई पेंशन का लाभ गिनाकर कर्मचारियों के साथ ठगी की जा रही है। कहा कि सरकार तर्क दे रही है कि पुरानी पेंशन से देश गरीब हो जाएगा। लेकिन भारत के कई पड़ोसी देश गरीब हो गए हैं, तो इसके पीछे पुरानी पेंशन नहीं, बल्कि अन्य कारण हैं। उन्होंने सरकार पर देश के बड़े संस्थानों को बेचने का आरोप लगाते हुए कहा कि हम पुरानी पेंशन लेते रहेंगे क्योंकि यह हमारा अधिकार है. इसके लिए कुर्बानी देने से पीछे नहीं हटेंगे। कहा कि अगर पुरानी पेंशन बहाल नहीं की गई तो 2024 में मोदी सरकार को इसके परिणाम भुगतने होंगे.

कलेक्ट्रेट कर्मचारी संघ के कौशल उपाध्याय, जंकुओक्टा के अध्यक्ष डॉ. अखिलेश राय, कॉलेज शिक्षक संघ के महासचिव डॉ. अवनीश चंद्र पांडेय, वरिष्ठ बेसिक शिक्षक संघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष सुशील कुमार पांडेय कान्हाजी, सुचेता प्रकाश, ब्रजेश सिंह , अनिल सिंह, माध्यमिक शिक्षक संघ के चेतनारायण गुट के जिलाध्यक्ष अरुण सिंह, अरविंद राय, जगत नारायण मिश्रा, विजय बहादुर, अवधेश यादव, छठू यादव, निर्भय सिंह, बिजेंद्र सिंह, सुशील त्रिपाठी, भारत भूषण मिश्रा, अवधेश तिवारी, विमल कुमार यादव अध्यक्षता लालबचन, प्रेमप्रकाश मिश्र, अभय मिश्रा, दिलीप कुमार श्रीवास्तव, राजकुमार प्रसाद, ददन भारती, कृष्ण कुमार शर्मा, वीएन तिवारी, राजेश चौहान, दशरथ यादव, श्रीराम प्रसाद आदि ने की. इस पर।

यह भी पढ़े - बलिया : शादी के घर मातम देने वाले एक्सीडेंट में एक और  मौत, मृतक संख्या पहुंची सात

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पर आयोजित धरने में कर्मचारी नेताओं ने गीतों के माध्यम से जोश भरने का भी प्रयास किया. कर्मचारी नेता श्रीराम प्रसाद ने अपने गीत 'मान मान ए देवता, भाग ए देवता' के माध्यम से सरकार को संदेश दिया। एक अन्य कर्मचारी नेता विची लाल यादव ने भी 'मत दी टेंशन हमके दी पेंशन' गाकर पुरानी पेंशन के लिए आवाज बुलंद की।

Ballia Tak on WhatsApp
Tags

Comments

Post A Comment

ताजा समाचार

बदायूं: कुल की फातिहा के साथ दो रोज़ा उर्स ए फरीदी संपन्न बदायूं: कुल की फातिहा के साथ दो रोज़ा उर्स ए फरीदी संपन्न
बदायूं। हर साल की तरह इस साल भी बाबा फरीद के पोते कुतबे बदायूं मुफ्ती शाह मोहम्मद इब्राहिम फरीदी का...
लखनऊ: राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने दिलाई शपथ
जालौन: मिशन शाक्त व् कृषि सिचाई समिति की डीएम ली जिलास्तरीय मीटिंग 
चित्रकूट: एडीएम नमामि गंगे को ज्ञापन सौंपते अमीन संघ के लोग।
चित्रकूट: सद्गुरू नेत्र चिकित्सालय में हुई कार्यशाला 
बस्ती: महिला सशक्तिकरण शिक्षित भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए निरंतर कार्य कर रही है मोदी सरकार
आजमगढ़: महासंघ ने डीएम को सौंपा मांग पत्र