बलिया में पहली बार पीसीएस की परीक्षा 14 मई को, तैयारियों को लेकर समाहरणालय में हुई बैठक

On

बलिया तक: बलिया में पहली बार 14 मई को होने वाली पीसीएस परीक्षा को लेकर प्रशासन अलर्ट है. तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी रवींद्र कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में बैठक हुई.

बलिया तक: बलिया में पहली बार 14 मई को होने वाली पीसीएस परीक्षा को लेकर प्रशासन अलर्ट है. तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी रवींद्र कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में बैठक हुई. आपको बता दें कि परीक्षा जिले के 21 केंद्रों पर 2 पालियों में सुबह 09.30 से 11.30 बजे तक और दोपहर 2.30 से 4.30 बजे तक होगी.

शिकायतों के निराकरण के लिए समाहरणालय सभाकक्ष बलिया में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जो 14 मई को प्रात: 8 बजे से रात्रि 8 बजे तक कार्यरत रहेगा. कंट्रोल रूम में नियुक्त अधिकारियों में शैलेन्द्र चौधरी डिप्टी कलेक्टर अशोक कुमार सिंह प्रशासनिक अधिकारी समाहरणालय बलिया होंगे. कंट्रोल रूम से संपर्क करने के लिए 05498-225808,05498-222419 और आप 05498-220857, 05498-220235 पर कॉल कर सकते हैं।

इधर बैठक में जिलाधिकारी ने बताया कि यह परीक्षा बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह जिले में पहली बार आयोजित की जा रही है. कक्षाओं को इस प्रकार विभाजित किया जाना है कि एक कक्षा में 24 विद्यार्थी बैठ सकें। सभी कमरों में सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था होनी चाहिए। सफाई कर्मचारियों की प्रतिनियुक्ति कर सभी कमरों की सफाई की जाए। परीक्षा के दौरान आयोग के निर्देशों का पालन किया जाए। पेपर डिलीवरी बहुत जरूरी है। सभी स्थिर व केंद्र प्रबंधक 7 बजे तक केंद्र पर पहुंच जाएं। प्रश्नपत्र खोलते समय और ओएमआर शीट बांटते समय विशेष सावधानी बरतनी होती है। ओएमआर शीट जमा करने तक उम्मीदवारों को परीक्षा हॉल छोड़ने की अनुमति नहीं है।

लोक सेवा आयोग से आए वीरेंद्र मणि त्रिपाठी ने बताया कि अगर बलिया में परीक्षा सफलतापूर्वक संपन्न हो जाती है. इसलिए भविष्य में भी बलिया को इस परीक्षा का केंद्र बनाया जाएगा। परीक्षा के समय यदि आपका कोई रिश्तेदार परीक्षा दे रहा है तो इसकी सूचना पहले से दें ताकि आपका परीक्षा केंद्र बदला जा सके। परीक्षा हॉल में इलेक्ट्रॉनिक उपकरण ले जाना सख्त वर्जित है। परीक्षा केंद्र पर दो महिला और दो पुरुष कांस्टेबल तैनात रहेंगे।

यह भी पढ़े - बलिया : पॉक्सो एक्ट में दोषी अभियुक्त को जुर्माना, 10 वर्ष कारावास की सजा

परीक्षा में 40 प्रतिशत से अधिक विकलांग अभ्यर्थियों के लिए निबंध लेखन का प्रावधान होगा। विकलांग व्यक्ति को 40 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाएगा। सुत लेखक विकलांग छात्र को लाएगा। पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर ने बताया कि इस परीक्षा में मानक के अनुसार तीन गुना अधिक बल लगाया गया है. संबंधित थाने का नंबर अपने पास रखने को कहा। मौके पर सभी स्टेटिक मजिस्ट्रेट व परीक्षा केंद्र प्रबंधक मौजूद रहे।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

ताजा समाचार

बहराइच: ट्रेन से कटकर ग्रामीण की मौत, परिवार में कोहराम बहराइच: ट्रेन से कटकर ग्रामीण की मौत, परिवार में कोहराम
पयागपुर, बहराइच:  बहराइच गोंडा रेल प्रखंड पर शुक्रवार को एक अधेड़ ग्रामीण की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। पुलिस...
बदायूं: महिला वकील से दो युवकों ने की छेड़छाड़, रिपोर्ट दर्ज
महिला JE के साथ चल रहा था असिस्टेंट इंजीनियर का अफेयर, पत्नी ने रंगेहाथ पकड़ा ; फिर...
Narendra Modi : लोकसभा चुनाव से पहले तृणमूल का काउन डाउन शुरु, पीएम मोदी ने कहा, बंगाल में जीतेंगे सभी सीटें
खनन से भरी ट्रैक्टर ट्राली ने टेंपो चालक को कुचला, मौके पर दर्दनाक मौत, लगाया जाम
नागेंद्र शुक्ला एडवोकेट की पुत्री करिश्मा शुक्ला बीटेक प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण
महिला मोर्चा की प्रवक्ता ने नारी शक्ति वन्दन के तहत काव्य सम्मेलन का किया आयोजन