बलिया में नावों का रजिस्ट्रेशन नहीं कर रहे अधिकारी, भुखमरी के कगार पर नाविक

On

Balli news: बैरिया में गंगा व सरयू नदी में नाव संचालन पर रोक लगा दी गई है। इससे तटीय इलाकों के लोग खासे परेशान हैं। नाव नहीं चलने से उन्हें आवाजाही में परेशानी हो रही है।

Balli news: बैरिया में गंगा व सरयू नदी में नाव संचालन पर रोक लगा दी गई है। इससे तटीय इलाकों के लोग खासे परेशान हैं। नाव नहीं चलने से उन्हें आवाजाही में परेशानी हो रही है। प्रशासन का कहना है कि मालदेपुर नाव हादसे के बाद सरकार के निर्देश पर बिना रजिस्ट्रेशन वाली नावों पर रोक लगा दी गई है.

इधर नाविकों का कहना है कि जब सरकार से नावों के पंजीकरण की मांग करते हैं तो अधिकारी नावों का पंजीकरण कराने से कतरा रहे हैं. नाविक बरमेश्वर चौधरी, दशरथ चौधरी, अमर नाथ चौधरी, ज्ञान चंद्र चौधरी, हरिश्चंद्र चौधरी भरत चौधरी, तेज बहादुर चौधरी, छोटे लाल चौधरी, रामचंद्र चौधरी, भूषण चौधरी ने मीडिया को बताया कि नाव बंद होने से परिवार चलाना मुश्किल हो गया है. नाव संचालन। उनका परिवार आर्थिक संकट से जूझ रहा है।

यह भी पढ़े - बलिया : करीब 10 साल होगी बालक की उम्र, शव देख लोग सन्न

नाविकों ने बताया कि स्थानीय तहसील शिवपुर, सतीपत, भुसौला, दुबेछपरा, रामगढ़, दुर्जनपुर पचरुखिया आदि में गंगा घाटों पर नाव संचालन की अनुमति मांगी थी. तहसीलदार ने हस्ताक्षर करने से मना कर दिया। ऐसे में नाविकों ने डिप्टी कलेक्टर से निबंधन की गुहार लगाई है.

इस संबंध में उपजिलाधिकारी आत्रेय मिश्रा ने बताया कि यह मामला तहसीलदार के अधीन है. नावों के निबंधन के लिए आदेश पत्र तहसीलदार को भेज दिया गया है। तहसीलदार सरकारी काम से बाहर है। उनके आने पर नावों का पंजीकरण कर बंदरगाहों पर नावों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment