बलिया में आयोजित हुआ हमारा आंगन हमारा बच्चे उत्सव उत्सव: डीएम बोले- सरकार शिक्षा के क्षेत्र में सुधार लाने के लिए प्रतिबद्ध, प्राथमिक शिक्षा के क्षेत्र में हो सुधार

On

बलिया जिले के गंगा बहुउद्देशीय सभागार में "हमारा आंगन हमारे बच्चे" कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जो जिला कार्यालय में स्थित है।

बलिया जिले के गंगा बहुउद्देशीय सभागार में "हमारा आंगन हमारे बच्चे" कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जो जिला कार्यालय में स्थित है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 कुशल भारत मिशन के तहत जिलाधिकारी रवींद्र कुमार के नेतृत्व में प्री-प्राइमरी के विद्यार्थियों के लिए यह कार्यक्रम चलाया गया।

लोगों को शिक्षित करने के लिए, बेसिक शिक्षा और बाल विकास विभागों ने एक कार्यक्रम बनाने के लिए सहयोग किया। इस कार्यक्रम में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, बेसिक शिक्षा विभाग के कर्मचारियों एवं आंगनबाडी कार्यकर्ताओं को छोटे बच्चों को प्रारंभिक अवस्था में शिक्षित करने की जानकारी प्रदान की गयी.

यह भी पढ़े - बलिया पुलिस के हत्थे चढ़ा 11 वर्षीय बच्चे का हत्यारा

डीएम के अनुसार सरकार शिक्षा के क्षेत्र में सुधारों को लागू करने के लिए समर्पित है। इस क्षेत्र में नए प्रयोग हो रहे हैं। प्राथमिक शिक्षा के क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए नए प्रयोग करने होंगे। कान्वेंट विद्यालयों की तुलना में, कई प्राथमिक विद्यालय उल्लेखनीय रूप से बेहतर प्रदर्शन करते हैं। कॉन्वेंट संस्थानों से अपने बच्चों का नाम हटाकर कुछ माता-पिता अपने बच्चों को प्राथमिक स्कूलों में दाखिला दिला रहे हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि प्राथमिक विद्यालयों में अब उन सभी सुविधाओं तक पहुंच है। जो पहले केवल निजी संस्थानों में होता था।

डीएम ने कहा कि दूसरे जिले में जब वे डीएम थे तो उनके भी ऐसे ही हालात थे। शिक्षकों ने अपनी तनख्वाह से पैसा लगाकर स्कूल का सुधार किया था। बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा दी। यदि कोई छात्र शिक्षा में सफलता प्राप्त करता है। इसलिए, इससे माता-पिता और प्रशिक्षक दोनों खुश होते हैं। डीएम ने कहा कि स्कूल में दाखिला लेने से पहले छात्रों को प्राथमिक शिक्षा प्राप्त करनी होगी. इसके चलते यह कार्यक्रम चल रहा है। सरकार चिंतित है कि गांव के बच्चों को स्कूल जाने से पहले बुनियादी शिक्षा मिलनी चाहिए। कई स्कूलों ने कार्यक्रम के दौरान बूथ बनाए जो विभिन्न विषयों से संबंधित थे।

प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षक, बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी सहित अन्य उपस्थित थे।

Ballia Tak on WhatsApp
Tags

Comments

Post A Comment