ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे: किसानों को नहीं मिला जमीन का मुआवजा, लोकसभा चुनाव बहिष्कार करने का लिया फैसला

यूपी के बलिया में बैनामा हो जाने के बावजूद किसानों को मुआवजे की धनराशि न मिलने पर रविवार की दोपहर 12 बजे फेफना में किसानो ने बैठक कर 2024 लोकसभा चुनाव बहिष्कार करने का निर्णय लिया है. किसानों ने कहा कि जिला प्रशासन जानबूझकर परेशान कर रहा है.

On

Ballia: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी बीते दिनों जब चितबड़ागांव में ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे का शिलान्यास करने आए थे, उस समय भी किसानों ने आंदोलन किया था, लेकिन जिला प्रशासन ने आश्वासन दिया था कि 10 से 15 दिन के अंदर मुआवजे की धनराशि आपके खाते में पहुंच जाएगी.
मुआवजा की मांग करते किसान

लेकिन अफसोस आज महीना बीत जाने के बावजूद मुआवजे की धनराशि किसानों को नहीं मिला है. ऐसे में अब किसानों ने 2024 लोकसभा चुनाव बहिष्कार करने का निर्णय लिया है.

मुआवजा की मांग करते किसान

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गाजीपुर से मांझी तक ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे के निर्माण के लिए किसानों की जमीन अधिग्रहित की जा रही है. लेकिन बैनामा हो जाने के बावजूद मुआवजे की धनराशि नहीं मिलने से किसानों में आक्रोश है.

यह भी पढ़े - Road Accident in Ballia : सड़क हादसे में युवक की मौत, दूसरा रेफर

मुआवजा की मांग करते किसान

किसानों की बैठक की अध्यक्षता सिंहपुर गांव के पूर्व प्रधान राणविजेंद्र प्रताप सिंह ने किया, जिसमें लगभग दर्जनों गांव के किसान शामिल हुए थे. साथ ही जिलाधिकारी को एक पत्र लिखा गया है.

मुआवजा की मांग करते किसान

बैठक में पूर्व प्रधान राणविजेंद्र प्रताप सिंह, खेदन मौर्य, सुधीर सिंह, सुनील सिंह, वीरेंद्र सिंह, आनंद मिश्रा, सहजानंद सिंह, अर्जुन वर्मा, विश्राम यादव, चंद्रपाल तिवारी, बालेश्वर सिंह, सच्चिदानंद सिंह, शोभा राजभर, गोगा राजभर, दिनेश सिंह समेत अन्य किसान मौजूद रहे.

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment