उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल, शहीद CRPF जवान सुनील कुमार पांडेय के पिता जी से मिलकर शोक व्यक्त किया।

On

बलिया: उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने वीर शहीद सुनील पाण्डेय के पैतृक घर पहुंच कर उनके परिवार सहित गांव के लोगों के साथ शोक संवेदना व्यक्त किया साथ ही कहा कि देश ऐसे महान बलिदानीयों के कारण टीका हुआ है इनकी कमी तो पूरी नहीं की जा सकती पर हम सब शहीद परिवार के प्रत्येक स्थिति में खड़े मिलेगे 

IMG-20230912-WA0028

वीर शहीद के पिता ने कहा - मुझे गौरव है अपने पुत्र पर समय आएगा तो मेरे पोते भी देश की रक्षा में सौप दूंगा

असम-अरुणाचल की सीमा पर हुई थी हत्या

यह भी पढ़े - Fatehpur Accident: अलग-अलग सड़क हादसों में 11 लोग हुए घायल, नौ की हालत गंभीर; कानपुर रेफर

बत दें कि यूपी के बलिया ज़िले अन्तर्गत रेवती थाना क्षेत्र के रामपुर दीघार गांव निवासी और सीआरपीएफ में अरुणाचल-असम प्रदेश सीमा पर तैनात जवान‌ की हत्या बाइक सवार बादमाशों ने चाकू मारकर कर दी थी। असम-अरूणाचल प्रदेश सीमा पर चेक गेट पर 6 सितंबर को बोर्डुम्सा में बाइक सवार बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया। उक्त घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी।

IMG-20230912-WA0032

घर का एक मात्र कमाऊ सदस्य थे जवान सुनील

सीआरपीएफ में तैनात जवान सुनील घर के एकमात्र कमाऊ सदस्य थे। पिता रामनाथ पाण्डेय और बड़े भाई अनिल पाण्डेय गांव पर खेती करते हैं। 12 वर्षीय बड़ा लड़का सत्यम कक्षा सात में और छोटा लड़का सात वर्षीय अनमोल कक्षा तीन में जिला मुख्यालय स्थित सेंट जेवियर्स स्कूल में पढ़ते हैं। सुनील के पिता रामनाथ, भाई अनिल, माता और दोनों बेटों का रोते-रोते बुरा हाल है। पत्नी अर्चना की स्थिति यह है कि पति के गम में वह बेहोश हो जा रही है।

इलाहाबाद ग्रुप सेण्टर से 2007 में हुई थी भर्ती

सीआरपीएफ जवान सुनील पांडेय की भर्ती 20 सितंबर 2007 को इलाहाबाद ग्रुप सेंटर से हुई थी। तत्पश्चात 117 बटालियन, 197 बटालियन में कार्य करते हुए 28 फरवरी 2020 से 186 बटालियन में अब तक ड्यूटी पर तैनात थे, जहां असम-अरूणाचल की सीमा पर मिशन ड्यूटी के दौरान बदमाशों ने सुनील की हत्या कर दी थी।

सोनू गुप्ता

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment