सरकार के आलू खरीद जिलों में बलिया का नाम दर्ज नहीं होने से किसान नाराज हैं।

On

सरकार शुरुआती दौर में उत्तर प्रदेश के 17 जिलों के किसानों से आलू खरीदेगी।. हैरानी की बात यह है कि जिन 17 जिलों का चयन किया गया है उनमें बलिया का नाम शामिल नहीं है।

Ballia: सरकार शुरुआती दौर में उत्तर प्रदेश के 17 जिलों के किसानों से आलू खरीदेगी।. हैरानी की बात यह है कि जिन 17 जिलों का चयन किया गया है उनमें बलिया का नाम शामिल नहीं है। जबकि बलिया में आलू की खेती अच्छी होती है।

इस बार जिले में करीब 86.50 हेक्टेयर क्षेत्र में आलू की खेती की गई है, जहां एक लाख 89 हजार 920 मीट्रिक टन आलू का उत्पादन किया गया है, लेकिन अभी भी सूची में बलिया का नाम शामिल नहीं है. 17 जिलों में कई ऐसे जिले शामिल हैं जहां कम मात्रा में आलू का उत्पादन होता है। बता दें कि सरकार ने आलू का न्यूनतम समर्थन मूल्य 650 रुपये प्रति क्विंटल घोषित किया है.

किसान परेशान हैं क्योंकि जिन जिलों में आलू उपार्जन होता है उनमें बलिया का नाम नहीं आ रहा है। इस बार जिले में अच्छी पैदावार भी हुई है, लेकिन कोल्ड स्टोरेज में भंडारण की सुविधा नहीं होने से आलू उत्पादक किसानों को नुकसान उठाना पड़ रहा है.

किसान चाहते हैं कि बलिया में भी आलू की सरकारी खरीद शुरू हो। कुछ किसानों ने बताया कि उत्पादन अच्छा हुआ है लेकिन बाजार में भाव नहीं मिल रहा है. सरकार का 650 रुपये प्रति क्विंटल का रेट कम है। कुछ कोल्ड स्टोरेज मालिक आलू रखने से मना कर रहे हैं। सरकार को आलू खरीद की दर 800 रुपये प्रति क्विंटल घोषित करनी चाहिए। 650 कम, वह भी अभी खरीदारी शुरू नहीं हुई है।

यह भी पढ़े - असाधारण क्षमता वाले व्यक्ति थे बाबा साहब

वहीं बलिया के सहायक उद्यान निरीक्षक अरुण कुमार यादव का कहना है कि जिले में आलू की सरकारी खरीद को लेकर अभी कोई आदेश नहीं आया है. प्रथम चरण में 17 जिलों को शामिल किया गया है, इसमें बलिया शामिल नहीं है।

Ballia Tak on WhatsApp
Tags

Comments

Post A Comment