सनबीम बलिया में इकोनॉमिक्स वालरस इवेंट सम्पन्न, प्रतिभागी बच्चों ने किया उत्कृष्ट प्रदर्शन

On

Ballia News : नवीनतम आयामों को बच्चों में प्रतिस्थापित कर उनमें सर्वांगीण रूप से निखार लाना ही वर्तमान शिक्षा प्रणाली का उद्देश्य है।

Ballia News : नवीनतम आयामों को बच्चों में प्रतिस्थापित कर उनमें सर्वांगीण रूप से निखार लाना ही वर्तमान शिक्षा प्रणाली का उद्देश्य है। इसी के निमित्त पाठक्रम में किसी भी विषय को करके सीखने अर्थात् क्रियात्मक रूप से सीखने को शामिल किया गया है। इसी पद्धति से शिक्षित करने के लिए अगरसंडा स्थित सनबीम स्कूल अपने विद्यार्थियों में विभिन्न प्रकार की योग्यताओं को परिपूर्णता हेतु समय समय पर अलग अलग प्रतियोगिताएं आयोजित करता रहता है।

इसी क्रम में 25 जुलाई 2023 को विद्यालय प्रांगण में इंटरस्कूल इवेंट कंपटीशन इकोनॉमिक्स वॉलरस का आयोजन किया गया। आयोजन में सनबीम स्कूल मुगलसराय, सनबीम स्कूल बलिया व ग्रीन वैली स्कूल बलिया के विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया था। यह प्रतियोगिता भारतीय अर्थव्यवस्था के संचालन पर आयोजित थी। इस विषय पर जिले में पहली बार इस तरह की प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।

यह भी पढ़े - लोकसभा चुनाव: सपा के उम्मीदवार सनातन पांडे 2013 से 2017 तक अखिलेश सरकार में स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री रहे।

इसमें इवेंट्स क्रमशः फॉरकास्ट द फ्यूचर (संकल्प हाल), डोमेस्टिक टूरिज्म (नालंदा पुस्तकालय) एवं रैप एन टैप (मल्टीमीडिया) संपन्न हुआ। कार्यक्रम में विभिन्न स्थानों से आए बच्चे अत्यंत उत्साहित थे। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि टीडी कॉलेज के इकोनॉमिक्स के प्रोफेसर डॉ प्रदीप श्रीवास्तव ने बच्चों को इंडियन इकोनॉमिक्स के बारे में बताया। कहा कि वर्तमान समय में अर्थशास्त्र के विभिन्न पहलुओं का अध्ययन करना अत्यंत आवश्यक है।

विशिष्ट अतिथि चार्टर्ड अकाउंटेंट सरदार बलजीत सिंह* ने कहा कि हमारे देश में वन संपदा, जल स्रोत, प्रचुर खनिज पदार्थ आदि उपलब्ध हैं। क्रियान्वयन हेतु इनका प्रयोग समुचित तरीके से होना चाहिए। यहां मिश्रित अर्थव्यवस्था वाला बाजारवाद है। दोनों ही अतिथियों ने इस प्रतियोगिता में सम्मिलित विद्यार्थियों के प्रदर्शन की अत्यंत सराहना की और कहा कि प्रायोगिक रूप से  विषय को सीखने का यह अत्यंत उत्तम तरीका है।

विद्यालय के निदेशक डॉ कुंवर अरुण ने कहा कि वर्तमान आर्थिक युग में इससे संबंधित प्रतिस्पर्धा एवं मूल्यांकन ही बच्चों के लिए बेहतर मार्ग प्रशस्त करती है। आधुनिक शिक्षण संग तकनीक युक्त परिवेश में विविध प्रतियोगिता, व क्रियाकलापों की विशेष शैली के प्रति सनबीम परिवार प्रतिबद्ध है। श्री सिंह ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए बताया की विद्यालय तथा शिक्षक ज्ञान के अथाह सागर है और ये विद्यार्थियों पर है कि वह इस सागर से कितने रत्न चुन सकते हैं। प्रधानाचार्या डॉक्टर अर्पिता सिंह ने इवेंट में आए लोगों का आभार प्रकट करते हुए बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना की।

इवेंट में मुगलसराय के उप प्रधानाचार्य रामप्रताप सिंह, शिक्षक इंचार्ज भारती सिंह, एसके राय व ग्रीन वैली पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य शंकर सिंह व शिक्षक इंचार्ज मेधा शुक्ला की उपस्थिति सराहनीय रही। कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के सीनियर कोऑर्डिनेटर  श्री पंकज सिंह,  वरिष्ठ शिक्षिका श्रीमती विशाखा सिंह, मिथिलेश पांडेय, नूरुल खान, मुर्शिद खान,आर विक्रम सिंह, कृष्णा, शालिनी सिंह, शशिकांत, नेहा सिंह,अनुराग सिंह, नवचंद्र तिवारी आदि थे। प्रतियोगिता परिणाम में सनबीम मुगलसराय प्रथम स्थान, सनबीम बलिया द्वितीय स्थान एवं ग्रीन वैली  स्कूल बलिया ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। कार्यक्रम में विद्यालय प्रशासन ने अतिथियों को मोमेंटम देकर सम्मानित किया। संचालन सनबीम स्कूल बलिया के विद्यार्थी  अनुपम मिश्रा, हर्षिता मुस्कान, सौम्या सिंह, वैष्णवी सिंह, संस्कृति सिंह, लक्षिका सिंह व अमृता सिंह ने किया। साथ में वॉलिंटियर छात्राएं भी रहीं।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment