बलिया : आराधना का शव मिलते ही कोहराम मच गया, यह है पूरा मामला

On

बैरिया, बलिया न्यूज : बिहार के हिस्से में आने वाले सिताबदियारा के गरीबा टोला गांव के सामने सोमवार को नहाने के दौरान डूबने से मौत हो गई.

बैरिया, बलिया न्यूज : बिहार के हिस्से में आने वाले सिताबदियारा के गरीबा टोला गांव के सामने सोमवार को नहाने के दौरान डूबने से मौत हो गई. भाई को बचाने के चक्कर में सरयू नदी में डूबे बैरिया थाना क्षेत्र के नारायणगढ़ निवासी आराधना ठाकुर की पुत्री दिलीप ठाकुर का शव रविवार की देर शाम नाव वालों की मदद से नदी से निकाल लिया गया. रिविलगंज पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया है.

बता दें कि आराधना ठाकुर अमर शहीद श्री कौशल कुमार इंटर कॉलेज नारायणगढ़ की 12वीं की छात्रा थीं। वह कुछ दिन पहले अपने नाना जनार्दन ठाकुर के घर आयोजित मांगलिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए अपनी मां के साथ सिताब दियारा गई थी। सोमवार को वह रिविलगंज थाना क्षेत्र के शेखपुरा गांव निवासी सत्येंद्र ठाकुर की 15 वर्षीय पुत्री सुमन कुमारी व कुछ अन्य लड़कियों के साथ सरयू नदी में स्नान करने गई थी. सुमन आराधना की कजिन है, जो सरयू नदी में नहाते समय डूबने लगी थी। उसे बचाने के लिए आराधना खुद सरयू नदी में डूब गई, जबकि सुमन को अन्य लड़कियों ने बचा लिया।

आराधना के सरयू में डूबने के बाद सरयू तट पर कोहराम मच गया। स्थानीय लोग परिजनों सहित सुमन को उपचार के लिए जयप्रकाश नगर ले गए, जहां प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए उसे छपरा भेज दिया गया. इधर आराधना का शव मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। रोते रोते सबका हाल बुरा है। आराधना का पार्थिव शरीर शाम तक उनके गांव नारायणगढ़ पहुंचने की संभावना है।

Ballia Tak on WhatsApp
Tags

Comments

Post A Comment