Ballia News: देश की आजादी के लिये नेताजी ने चुनी थी सशस्त्र विद्रोह की राह : डाॅ. कौशिकेय

On

Ballia News : इतिहासकार डाॅ. शिवकुमार सिंह कौशिकेय ने कहा कि ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन के गुलाम मुल्कों की अवाम में आजादी की अलख नेताजी सुभाषचन्द्र बोस ने जगाया था। नेताजी की 127वीं जयंती के अवसर पर ने कलेक्ट्रेट परिसर स्थित नेताजी सुभाषचंद्र बोस के स्मारक पर माल्यार्पण के बाद उपस्थित जनों को संबोधित करते हुए डाॅ. कौशिकेय ने बताया कि जब वर्तमान भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, म्यांमार आदि देशों पर कब्जा कर यहां की जनता पर ब्रिटिश सरकार जुल्म ढा रही थी और इन देशों के प्राकृतिक संसाधनों, मानव श्रम का शोषण कर यूरोप और ब्रिटेन को धनवान बना रहे थे।

उस समय आई.सी.एस. अफसर बनने बाद भी सरकारी नौकरी की जगह नेताजी ने देश की आजादी के लिये सशस्त्र विद्रोह की राह को चुना था। नेताजी के सपनों का भारत बनाने के लिये भारतीय उपमहाद्वीप के युवाओं को इनसे प्रेरणा प्राप्त करना होगा। इस अवसर पर दयाल शरण वर्मा, संजय सोनी, निधेष श्रीवास्तव, मनोज कुमार श्रीवास्तव, अभय यादव, सवितानन्द यादव, सत्यनारायण प्रसाद, पराग श्रीवास्तव आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

यह भी पढ़े - केशव प्रसाद मौर्य पहुंचे दिल्ली, जेपी नड्डा से की मुलाकात

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts