Ballia News : मां की जिन्दगी का आधार था मयंक

On

बैरिया,बलिया। बैरिया थाना क्षेत्र के शोभा छपरा में घर में हुए पूजा और हवन का विभूति व फूल विसर्जित करने गए 11 वर्षीय बालक की मौत पैर फिसलने से तालाब में गिरकर हो गयी।

बैरिया,बलिया। बैरिया थाना क्षेत्र के शोभा छपरा में घर में हुए पूजा और हवन का विभूति व फूल विसर्जित करने गए 11 वर्षीय बालक की मौत पैर फिसलने से तालाब में गिरकर हो गयी। घटना के बाद परिवार में कोहराम मच गया है। बुधवार की सुबह लगभग आठ बजे मयंक सिंह पुत्र स्वर्गीय समीर सिंह घर में हुए पूजा व हवन का विभूति तथा फूल आदि विसर्जित करने के लिए गांव के निकट सोता (तालाब) पर गया था। वहां विसर्जन करते समय उसका पैर फिसल गया और वह गहरे पानी में डूब गया।

किनारे खड़ा उसका चचेरा भाई चिल्ला चिल्ला कर लोगों को एकत्र किया। जब तक लोग मयंक को पानी से बाहर निकालते तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच की परिजनों के आग्रह पर शव के पंचनामा के बाद उसे दाह संस्कार के लिए परिवार को सुपुर्द कर दिया। गौरतलब है कि उक्त बालक के जन्म के कुछ दिन बाद उसके पिता का देहांत हो गया था। वह अपने माता-पिता का इकलौता संतान था।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment