Ballia News : लिपिक और चपरासी की नियुक्ति के नाम पर एक ही परिवार से लिए 20 लाख रुपये 

कॉलेज से सेवानिवृत्त हुए चपरासी जवाहिर सिंह के पांच बेटों का लिपिक और चपरासी पद पर नियुक्ति के नाम पर कॉलेज के प्रबंधक ने 20 लाख रुपये ले लिए और फर्जी नियुक्ति पत्र थमा दिया।

On

कोर्ट के आदेश पर कॉलेज प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज , फर्जी नियुक्ति पत्र देने के कारण कई सालों तक करते रहे नौकरी, लेकिन नहीं मिला वेतन

Ballia News : चपरासी की नियुक्ति के नाम पर कॉलेज प्रबंध समिति द्वारा लाखों की वसूली का खेल जारी है। नया मामला नगरा थाना क्षेत्र के इसारी सलेमपुर गांव में संचालित नवीन आदर्श इंटर कॉलेज का है। 

कॉलेज से सेवानिवृत्त हुए चपरासी जवाहिर सिंह के पांच बेटों का लिपिक और चपरासी पद पर नियुक्ति के नाम पर कॉलेज के प्रबंधक ने 20 लाख रुपये ले लिए और फर्जी नियुक्ति पत्र थमा दिया। कई सालों तक नौकरी करने के बाद भी वेतन नहीं मिलने से नाराज अरविंद कुमार सिंह निवासी ग्राम खनवर नगरा कॉलेज प्रबंधक जयशंकर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इस मामले में बलिया न्यायालय के निर्देश पर नगरा थाने में रविवार को अमानत में खयानत की धारा 406 के तहत नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने जांच शुरु कर दी है। इसके बाद कालेज प्रबंध समिति में हड़कंप मच गया है।

यह भी पढ़े - प्रयागराज: पति-पत्नी ने जहर खाकर दी जान, परिजनों ने पुलिस को सूचित किए बिना कर दिया अंतिम संस्कार

साल 2019 में कॉलेज के चपरासी जवाहर सिंह सेवानिवृत्त हुए। इस कारण प्रबंधक ने उनसे भावनात्मक लगाव दिखाते हुए उनके बेटों का लिपिक और चपरासी पद पर नियुक्ति का भरोसा दिया और एक ही परिवार के पांच भाईयों अरविंद कुमार सिंह, शत्रुधन सिंह, संजय कुमार सिंह, राजू सिंह और राजेश कुमार सिंह की नियुक्ति के नाम पर 4-4 लाख रुपये के हिसाब से 20 लाख रुपये ले लिए। इसके साथ ही कॉलेज में और कई नियुक्तियां की गई। 

कॉलेज के प्रबंधक और प्रिंसिपल के हस्ताक्षर से उन्हें फर्जी नियुक्ति पत्र भी दिया गया, लेकिन कई साल बीतने के बाद भी एक भी कर्मचारी को वेतन नहीं मिला। इसके बाद कॉलेज प्रबंधक और नियुक्त स्टाफ में तनाव बढ़ गया।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts