बलिया: CHC सिकंदरपुर में सामने आई डॉक्टर की लापरवाही, सच्चाई जानकर चौंक जाएंगे आप

On

सिकंदरपुर, बलिया: जिले का स्वास्थ्य विभाग यूं ही बदनाम नहीं है। आए दिन विभागीय कर्मचारी और डॉक्टर कोई न कोई ऐसी हरकत कर देते हैं कि उन्हें लोगों की आलोचना का शिकार होना पड़ता है।

सिकंदरपुर, बलिया: जिले का स्वास्थ्य विभाग यूं ही बदनाम नहीं है। आए दिन विभागीय कर्मचारी और डॉक्टर कोई न कोई ऐसी हरकत कर देते हैं कि उन्हें लोगों की आलोचना का शिकार होना पड़ता है। जिला मुख्यालय से दूर स्थित प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों की हालत तो और भी खराब है. यहां तैनात डॉक्टर व कर्मचारी दलालों के प्रभाव में आकर कौन सी रिपोर्ट किसे सौंप दें, यह कहना मुश्किल है।

ताजा मामला सीएचसी सिकंदरपुर का है. यहां तैनात एक डॉक्टर ने मारपीट में घायल एक लड़की को चोट वाली जगह की बजाय दूसरी जगह एक्स-रे कराने के लिए लिख दिया। हद तो तब हो गई जब पीड़िता ने चोट वाली जगह दिखाकर उक्त जगह का एक्स-रे कराने को कहा तो इससे नाराज डॉ. अभिषेक कुमार ने उसके साथ दुर्व्यवहार किया और उसे अस्पताल से बाहर निकाल दिया. शुक्रवार को कुछ साथियों के साथ जिला अस्पताल पहुंची युवती ने जब सीएमओ से गुहार लगाई तो उक्त डॉक्टर की मनमानी सामने आ गई।

यह भी पढ़े - ग्राम विकास अधिकारी एसोसिएशन बलिया : जिलाध्यक्ष गिरीश कुमार पाण्डेय, मंत्री बनें रविशंकर यादव

गौरतलब है कि सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के मीरजापुर (चक कलंदर) में गुरुवार को दो परिवारों में मारपीट हो गयी थी. जिसमें सीमा यादव का बायां हाथ टूट गया। स्थानीय पुलिस ने सीमा को मेडिकल के लिए सीएससी भेजा. जहां ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर अभिषेक ने पहले तो दाहिने हाथ में मामूली चोट बताई। सीमा ने बाएं हाथ में चोट के बारे में बताया तो चोट वाली जगह के बजाय कंधे का एक्स-रे कराने को कहा गया। जब सीमा एक्स-रे के लिए पहुंची तो हैरान रह गई। सीमा ने तुरंत डॉक्टर से संपर्क किया और उनसे कलाई (चोट वाली जगह) का एक्स-रे कराने को कहा, तो वह गुस्सा हो गए और उन्हें भला-बुरा कहते हुए बाहर निकाल दिया।

उधर, मामला संज्ञान में आने के बाद सीएमओ ने डॉ. अभिषेक की जमकर क्लास लगाई और सीमा को दोबारा एक्स-रे करने का निर्देश देकर वापस सीएचसी सिकंदरपुर भेज दिया। सीमा ने बताया कि सीएमओ के निर्देश पर जब वह सीएचसी पहुंची तो स्टाफ ने एक्स-रे करने से मना कर दिया। तर्क दिया कि डॉ. अभिषेक नहीं हैं, उनके आने पर बात बनेगी। आलम यह रहा कि शुक्रवार को घंटों इंतजार के बाद शाम करीब पांच बजे सीमा निराश होकर घर लौट आई, लेकिन उसका एक्स-रे नहीं हो सका। उधर, सपा नेता जुबेर वारसी ने सीएचसी की व्यवस्था को लेकर जिम्मेदारों से आवश्यक कार्रवाई की मांग की है। इस मामले में संबंधित डॉक्टर का पक्ष जानने का प्रयास किया गया, लेकिन संपर्क नहीं हो सका.

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment