स्कूल और प्रशिक्षण स्थल का नजारा देख चौक गये बलिया बीएसए, बड़ी कार्रवाई के संकेत

On

सिकन्दरपुर, बलिया। शिक्षा क्षेत्र पंदह के उच्च प्राथमिक विद्यालय खेजुरी पर आयोजित आजमगढ़ मंडल के प्रथम महर्षि आर्यभट्ट खगोलीय विज्ञान प्रयोगशाला का सच देखने शनिवार को पहुंचे BSA मनीष कुमार सिंह नजारा देख दंग रह गये।

सिकन्दरपुर, बलिया। शिक्षा क्षेत्र पंदह के उच्च प्राथमिक विद्यालय खेजुरी पर आयोजित आजमगढ़ मंडल के प्रथम महर्षि आर्यभट्ट खगोलीय विज्ञान प्रयोगशाला का सच देखने शनिवार को पहुंचे BSA मनीष कुमार सिंह नजारा देख दंग रह गये। उच्च प्राथमिक विद्यालय खेजुरी की व्यवस्था तो अस्त-व्यस्त मिली ही, प्रशिक्षण में कोई भी शिक्षक मौजूद नहीं था। ऐसे में करीब डेढ़ दर्जन शिक्षक कार्रवाई की रडार पर आ गये है। 

निर्धारित शेड्यूल के मुताबिक सुबह नौ बजे से अपरान्ह तीन बजे तक प्रशिक्षण संचालित होना था। इसमें कुल 16 शिक्षक थे। उधर, संपूर्ण समाधान दिवस से वापस लौटते समय बीएसए मनीष कुमार सिंह करीब एक बजे प्रशिशण स्थल पर पहुंचे तो उक्त वहां का नजारा देख चौक गए। प्रयोगशाला में प्रशिक्षक तो उपस्थित थे, पर प्रशिक्षणार्थी नादरत थे। कुर्सियां तक समेट दी गयी थी। इस पर बीएसए न कड़ी नाराजगी जताई।

यह भी पढ़े - बलिया में रोजगार को लेकर बड़ा अवसर आया सामने, उम्र 18 से 50 वर्ष ; ऐसे करे आवेदन

इससे पहले उच्च प्राथमिक विद्यालय पहुंचे बीएसए को मौके पर कुछ शिक्षक मौजूद मिले, कुछ घर लौट गये थे। छात्र संख्या भी नामांकन के सापेक्ष आधे से कम थी। शिक्षकों की इस लापरवाही से नाराज बीएसए ने विभागीय कार्रवाई का संकेत दिया है। कहा कि कार्य के प्रति लापरवाही बरतने वालों को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। अक्सर अध्यापकों के देर से विद्यालय पहुंचने, पठन-पाठन पर ध्यान न देने और उपस्थिति से संबंधित शिकायत मिल रही है। कहा कि जो शिक्षक नियमों को ताख पर रख कर कार्य करेंगे,  उनके खिलाफ अवश्य कार्रवाई की जायेगी।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment