सत्र के पहले ही दिन पाठ्य पुस्तक वितरित कर बलिया बीएसए ने दिया बड़ा संदेश, शिक्षकों को दी खास सलाह

On

बलिया : निःशुल्क पुस्तक वितरण योजना शुरू होने के बाद संभवतः यह पहला मौका है, जब सत्र के पहले ही दिन परिषदीय स्कूलों के बच्चों के हाथों में नई किताबें पहुंचने लगी हैं। सोमवार को बीएसए मनीष कुमार सिंह नगर के ओक्डेनगंज स्थित कम्पोजिट विद्यालय कन्या चौक का निरीक्षण करने पहुंचे तो वहां पुस्तकों के वितरण का कार्य चल रहा था। बीएसए ने खुद बच्चों का किताबें देकर उनका उत्साह बढ़ाया। किताब पाकर बच्चे के चेहरे खिल उठे।

बीएसए ने शिक्षकों को सलाह दी कि वे स्कूल के बच्चों को अपनी संतान समझकर शिक्षित करें। उनसे भावनात्मक रूप से भी जुड़ने का प्रयास करें। जो बच्चे नियमित स्कूल न आते हो, उनके अभिभावकों से सम्पर्क करें। यह ध्यान रखें कि स्कूल के आसपास का छह साल से अधिक उम्र का कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न रहे। बीएसए ने बताया कि जिले में प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों की कक्षा तीन से आठ तक की 95 फीसदी किताबें उपलब्ध हो गई है। किताबों का वितरण का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा। जिले के करीब दो हजार दो सौ स्कूलों में पढ़ने वाले ढाई लाख से अधिक बच्चों में से अधिसंख्य के हाथों में इसी सप्ताह निःशुल्क पाठ्य-पुस्तकें होंगी। स्कूल पर पहुंचे बीएसए का बीईओ मुख्यालय अरविंद कुमार के अलावा अजय सिंह, प्रमोद चंद, शशिभूषण मिश्र, राम रतन यादव, नरेंद्र कुमार आदि ने स्वागत किया।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment