बलिया नाव हादसा: पुलिस ने दो को किया गिरफ्तार, ये वजह आई सामने

On

बलिया : मुंडन संस्कार के दौरान फाफना के मालदेपुर घाट पर नाव दुर्घटना में शामिल दो नाविकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

बलिया : मुंडन संस्कार के दौरान फाफना के मालदेपुर घाट पर नाव दुर्घटना में शामिल दो नाविकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने दोनों के खिलाफ धारा 282, 304 भादवि के तहत मुकदमा दर्ज कर चालान न्यायालय में पेश कर दिया। वहीं, हादसे के दूसरे दिन एनडीआरएफ के जवानों ने लापता युवक का शव बरामद किया। इससे मृतकों की संख्या बढ़कर 4 हो गई है.

गौरतलब हो कि सोमवार को मुंडन संस्कार के दौरान गंगा नदी में नाव पलटने से कुछ श्रद्धालु डूब गए। इसकी सूचना मिलते ही फाफना पुलिस मौके पर पहुंच गई। थोड़ी देर में पहुंचे जिलाधिकारी रवींद्र कुमार व पुलिस अधीक्षक राजकरन नैय्यर ने स्थलीय समीक्षा करते हुए गंगा नदी में डूबे हुए श्रद्धालुओं को बाहर निकालने और बिना अनुमति के गंगा नदी में नौका विहार करने वाले नाविकों पर कार्रवाई की. नाव की क्षमता से अधिक यात्री को दिशा-निर्देश दिए।

यह भी पढ़े - Ballia News: जलेश्वर सिंह हत्याकांड मामले में कोर्ट ने हरि सिंह समेत पांच आरोपियों को किया दोषमुक्त

मामले में फफना थाना के उपनिरीक्षक मामूर पुलिस टीम के साथ केयर एरिया में थे, तब मुखबिर की सूचना के आधार पर मनुजी पुत्र भारदूल (मालदेपुर, फाफना निवासी) व रामदयाल पुत्र श्यामसुंदर विंद (हैवतपुर कोतवाली निवासी) को मालदेपुर शिव मंदिर के पास से गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान नाविकों को बताया गया कि नाव में अधिक भीड़ होने के कारण उनकी नाव मालदेपुर घाट पर नदी में डूब गई थी। हादसे के बाद हम डर के मारे भाग खड़े हुए। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में उपनिरीक्षक राघव राम यादव, का. मनेंद्र कुमार यादव, अंकित मौर्य व आनंद यादव शामिल थे।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment