श्रीनगर में तैनात बलिया के लाल का शव पहुंचते ही मच गया कोहराम, मासूम बेटे ने लगाई आग

On

बलिया। श्रीनगर में तैनात सीआरपीएफ जवान का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव पहुंचते ही कोहराम मच गया.

बलिया। श्रीनगर में तैनात सीआरपीएफ जवान का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव पहुंचते ही कोहराम मच गया. बेटे के अंतिम दर्शन के लिए लोगों का तांता लगा रहा। जवान का अंतिम संस्कार गंगा नदी के शिवरामपुर घाट पर किया गया, जहां बेटे ने चिता को मुखाग्नि दी। पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया।

बांसडीह रोड थाना क्षेत्र के भुइली गांव निवासी राज किशोर पांडेय उर्फ लालू पांडेय (40) सीआरपीएफ में था. उनकी पोस्टिंग श्रीनगर में हवलदार के पद पर थी। सोमवार सुबह परेड में शामिल होने जा रहे थे, तभी सीने में तेज दर्द हुआ। साथी जवानों ने आनन-फानन में उसे अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़े - बलिया : एक माह बाद भी अपहृत किशोरी का पता नहीं

सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। बुधवार देर शाम जब जवान का पार्थिव शरीर पैतृक गांव पहुंचा तो सबकी आंखें नम हो गईं। जवान की पत्नी बबिता देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। बेटे रितेश कुमार पांडेय छोटे (15) और बेटी अंकिता पांडेय (8) की हालत बेहोशी जैसी है। आंसुओं के बीच जवान का अंतिम संस्कार गार्ड ऑफ ऑनर के बाद गंगा नदी के शिवराम पुर घाट पर किया गया, जहां छोटे 15 वर्षीय पुत्र रितेश कुमार पांडेय ने मुखाग्नि दी.

Ballia Tak on WhatsApp
Tags

Comments

Post A Comment