बलिया में विरासत निस्तारण के लिए चलेगा अभियान, गांवों में पखवाड़े तक लगेंगे कैंप.

On

सिकंदरपुर, बलिया न्यूज : विरासत से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने के लिए सरकार ने बड़ी पहल की है। सरकार ने एक पखवाड़े तक वृहद हेरिटेज अभियान चलाकर प्रकरणों के निस्तारण के निर्देश दिए हैं।

सिकंदरपुर, बलिया न्यूज : विरासत से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने के लिए सरकार ने बड़ी पहल की है। सरकार ने एक पखवाड़े तक वृहद हेरिटेज अभियान चलाकर प्रकरणों के निस्तारण के निर्देश दिए हैं। जिसके तहत गांव-गांव कैंप लगाकर लेखपाल मृतकों के वारिसों का सत्यापन करेंगे। साथ ही खतौनी में नाम दर्ज कराने के लिए भी आवेदन किया जाएगा।

एसडीएम सिकंदरपुर अरुण कुमार मिश्रा ने सभी सर्किल कानूनगो व लेखपालों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसी को भी विरासत दर्ज कराने के लिए तहसील के चक्कर नहीं लगाने पड़ें. एक से 15 जून तक चलने वाले इस अभियान को कर्मचारी पूरी लगन से पूरा करें। ताकि जमीन विवाद से जुड़े मामलों में कमी लाई जा सके। बताया कि उक्त अभियान का उद्देश्य लंबे समय से लंबित विरासत के मामलों का निपटारा करने के साथ-साथ खतौनी की गलती को सुधारना है. तहसीलदार, नायब तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक को शिविर की देखरेख का जिम्मा सौंपा गया है।

यह रहेगा कैंप का शेड्यूल

इसी कड़ी में 2 जून को पंद्रह प्रखंडों के नवानगर प्रखंड के सीवानकला, गंग किशोर, चखन, ग्राम सभा किकोडा, मासूमपुर में शिविर लगाकर इसकी शुरुआत की जाएगी. जबकि 3 जून को काजीपुर, 4 जून को माहथापर और पुरुषोत्तमपट्टी, 5 जून को भागीपुर और बालूपुर, 6 जून को निपानिया, चंदयार और भटवाच, 7 जून को कडसर, लखनापार, बनहारा और असना में और हथौज में कैंप लगाए जाएंगे. 9 जून को खरसरा व रक्षा दनिया, 10 जून को खेजुरी व रूपवार में उक्त ग्राम पंचायत सहित ग्राम पंचायत में विरासत लंबित है. प्रकरणों का तत्काल निस्तारण किया जाएगा। इस दौरान एसडीएम में उक्त कार्य में किसी प्रकार की ढिलाई को अक्षम्य बताया गया।

यह भी पढ़े - बलिया : नि: शुल्क प्याऊ का उद्घाटन, राहगीरों को हमेशा मिलेगा शीतल पेयजल

शासन के निर्देश पर तहसील क्षेत्र के सभी लंबित विरासत प्रकरणों का निस्तारण किया जाना जनहित में आवश्यक है। इसके लिए हर ग्राम पंचायत में कैंप लगाया गया है। इस अभियान से तहसील के चक्कर लगाने से मुक्ति मिलेगी।
अरुण कुमार मिश्रा, एसडीएम सिकंदरपुर

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment