अयोध्या: जमीन के विवाद में किसान की चाकू से गोद कर कर हत्या, पूर्व मंत्री के पैतृक गांव में मची हलचल

On

अयोध्या: तारुन थाना क्षेत्र में सोमवार की देर रात एक बुजुर्ग किसान की चाकू से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी गई। वारदात के बाद पूर्व मंत्री के पैतृक गांव में हलचल है। मामला पुराने जमीनी विवाद और रंजिश से जुड़ा है। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

बताया गया कि केशरूवा बुजुर्ग गांव निवासी बुजुर्ग किसान 80 वर्षीय शंकर निषाद उर्फ बवाली पुत्र नगेसर शाम को शौच के लिए गांव के बाहर अपने खेत की ओर गए थे। शौच के लिए ही निकले गांव निवासी काली दीन निषाद को गांव निवासी राज बहादुर तिवारी के नलकूप के पास से किसी के कराहने की आवाज सुनाई दी तो माजरा जानने वह निकट गए।

यह भी पढ़े - समीक्षा अधिकारी का प्रश्नपत्र प्रिटिंग प्रेस से लीक कराने वाले गैंग का पर्दाफाश, छह गिरफ्तार

पास जाकर काली दीन ने टार्च जलाकर देखा तो पाया कि बुजुर्ग शंकर निषाद रक्त रंजित हाल में पड़े हैं और मुंह में कपड़ा ठूंसा हुआ है। भागकर उन्होंने मामले की जानकारी घायल किसान के बेटे को दी। इसके बेटे नंदलाल निषाद ने अपने घायल और मरणासन्न पिता को ठेले पर लादकर सीएचसी तारून पहुंचाया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर देख चिकित्सकों नें बुजुर्ग किसान को जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

बेटा रात सवा दस बजे बुजुर्ग किसान को लेकर जिला अस्पताल पहुंचा तो इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात चिकित्सा डॉक्टर वीरेंद्र वर्मा ने परीक्षण के बाद किसान को मृत घोषित कर दिया। अस्पताल प्रशासन ने शव को मोर्चरी में रखवा पोस्टमार्टम के लिए मेमो नगर कोतवाली पुलिस को भिजवाया है।

मृतक के बेटे नंदलाल का कहना है कि सायं करीब 5 बजे पिता घर से शौच को कहकर गांव के पूरब अपने खेत की तरफ गए थे। घटना की जानकारी पर क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार तिवारी के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने बयान लिया है। जिसमें बेटे ने पुरानी जमीनी रंजिश में गांव के ही राधेश्याम और शिवकुमार पर मुंह में कपड़ा ठूंस चाकू और लाठी डंडे से हमलाकर कर हत्या की बात कही है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment