Amethi News: नाबालिग बेटी को पाने के लिए 18 दिन से थाने के चक्कर लगा रही मां, CM योगी से लगाई गुहार 

On

अमेठी: महिलाओं के प्रति अपराध को लेकर जहां योगी सरकार एक ओर सख्त नजर आ रही है तो वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में एक महिला अपनी नाबालिग बेटी की बरामदगी के लिए 18 दिनों से लगातार पुलिस अधिकारियों व थाने का चक्कर लगा रही है। महिला का आरोप है कि पुलिस आरोपियों के परिजनों से पूछताछ के बजाय पीड़ित महिला को ही रोज थाने बुलाकर पूछताछ करती है।

पूरा मामला संग्रामपुर थाना क्षेत्र का है जहां बीते 12 जनवरी की शाम घर पर अकेली मौजूद नाबालिग लड़की घर से लापता हो गई। पीड़ित मां ने पड़ोस गांव के ही दबंगों पर अपहरण का आरोप लगाते हुए संग्रामपुर थाने में तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की थी। लेकिन पुलिस ने अपहरण की तहरीर लेने से इनकार करते हुए बहला फुसलाकर भगा ले जाने की तहरीर लेकर एफआईआर दर्ज कर लिया था। घटना के 18 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक पुलिस के हाथ खाली है। नाबालिग लड़की और आरोपियों का कहीं अता-पता नहीं चल पाया है। इस दौरान पीड़ित मां प्रतिदिन संग्रामपुर थाने से लेकर अमेठी सीओ, एसपी व आईजीआरएस पोर्टल पर मुख्यमंत्री से बेटी की बरामदगी और न्याय की गुहार लगा रही है। 

यह भी पढ़े - चार बच्चो की मां छः बच्चे के पिता के साथ फरार

पीड़ित महिला ने बताया कि 12 जनवरी की शाम जब वह बाजार गई थी तो उसकी लड़की को पड़ोस गांव के ही ठाकुर के लड़के धीरेंद्र सिंह उर्फ बीके सिंह अपने दो साथियों के साथ अपहरण कर लिया था। जब वह घर गई तो घर का दरवाजा खुला पड़ा था। ढूढने के बाद उसकी पुत्री का कहीं पता नहीं चला तो पुलिस को सूचना दी और 13 जनवरी को संग्रामपुर थाने पहुंचकर दबंगों के खिलाफ अपहरण की तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की थी। लेकिन पुलिस ने अपहरण की तहरीर लेने से इनकार करते हुए तहरीर बदलवाकर बहला-फुसलाकर भगा ले जाने की तहरीर लेकर मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद भी वह 18 दिनों से पुलिस के बुलाने पर थाने का चक्कर लगा रही है। 

इसके साथ ही अमेठी सीओ, एसपी को भी अपहरण की तहरीर देकर कार्रवाई करने की मांग की गई है। लेकिन उसको न्याय नहीं मिल पा रहा है। उसको आशंका है कि दबंग उसकी बेटी की हत्या न कर दिए हो, क्योंकि दबंगों द्वारा लगातार उसके और उसके परिवार को जान माल हानि पहुंचाने की धमकी दी जा रही है। बेटी के बरामदगी के लिए सीओ ऑफिस जाने के बाद अमेठी सीओ द्वारा पुलिस कर्मियों को जल्द से जल्द बरामद करने के निर्देश देने के बजाय उसी से लोकेशन पूछ रहे हैं। जबकि आरोपियों के परिजनों से कोई पूछताछ नहीं की जा रही है।

मुख्यमंत्री से नाबालिग बेटी की बरामदगी व न्याय की गुहार
पीड़ित महिला 18 दिनों से थाने व पुलिस अधिकारियों का चक्कर लगाकर परेशान होकर नाबालिक बेटी के बरामदगी के लिए अब सुबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से हाथ जोड़कर रोते हुए बेटी की बरामदगी और न्याय दिलाने की गुहार है।

सीओ ने कहा
अमेठी सीओ लल्लन सिंह ने बताया मामले में केस दर्ज है, जगह-जगह दबिश दी जा रही है,  जल्द ही किशोरी की बरामदगी करके आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment

Popular Posts