प्रेम प्रसंग में दोहरा हत्याकांड : हर जुबां पर चर्चा उसी की

On

अंबेडकरनगर : हंसवर थाना क्षेत्र के झंझवा गांव में मंगलवार की आधी रात के बाद हुए दोहरे हत्याकांड से इलाके में सनसनी फैला दी है। एकतरफा प्यार में अपने साथी के साथ पहुंचे युवक ने युवती के दादा की चाकू से गोदकर हत्या कर दी, जबकि युवती, उसके पिता व मां को चाकू से घायल कर दिया। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने घेराबंदी में पकड़े गए युवक के साथी को पीटकर मार डाला, जबकि मुख्य आरोपी भाग निकलने में सफल रहा।

नोनारा गांव निवासी सलमान ने एकतरफा प्यार में साथी आसिम के साथ पड़ोसी गांव झंझवा निवासी हेलाल अहमद के घर में घुसा और मौजूद लोगों पर चाकू से हमला कर दिया। इसमें हेलाल के पिता मोहम्मद जहीर (75) की मौत हो गई, जबकि हेलाल (50), उनकी पत्नी तहजीब फातिमा (45) तथा पुत्री आयशा (19) चाकू के हमले में घायल हो गई। इसी बीच पहुंचे ग्रामीणों ने घेराबंदी की तो सलमान भाग निकला, लेकिन उसका दोस्त आसिम पकड़ लिया गया। 

ग्रामीणों ने मारपीट कर उसे मरणासन्न कर दिया गया। भोर में पहुंची पुलिस ने आसिम व जहीर को सीएचसी बसखारी पहुंचाया। वहां जहीर को मृत घोषित कर दिया गया। जिलाअस्पताल भेजते समय रास्ते में आसिम की भी मौत हो गई। हेलाल, तहजीब व आयशा को बसखारी से पहले जिला अस्पताल लाया गया, फिर तीनों को मेडिकल कॉलेज सद्दरपुर रेफर कर दिया गया। वहां उनका उपचार चल रहा है।

पुलिस ने हेलाल की तहरीर के आधार पर सलमान व आसिम के खिलाफ हत्या समेत कई अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। तहरीर में कहा गया कि सलमान उसकी पुत्री आयशा से एकतरफा प्यार करता था और शादी का दबाव बना रहा था। इससे मना करने पर ही उसने इस घटना को अंजाम दिया।

यह भी पढ़े - बलिया की इस पुरानी मठिया पर चेतक प्रतियोगिता के बीच धर्मशाला निर्माण के लिए भूमि पूजन

तीन दिन पहले निकाह से हुआ था इंकार

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एकतरफा प्यार में जिस सलमान ने जघन्य वारदात को अंजाम दे डाला, उसका विवाह युवती आयशा से दो वर्ष पहले तय हो जाने की चर्चा सामने आई है। बताया जा रहा है कि आयशा से सलमान के जुड़ाव को देखते हुए दोनों पक्ष के परिजन लगभग दो वर्ष पहले विवाह के लिए तैयार हो गए। सलमान इससे काफी खुश था। निकाह से तीन दिन पहले अचानक कन्या पक्ष की तरफ से इंकार कर दिया गया। कहा गया कि आयशा ही शादी के लिए तैयार नहीं थी।

चारदीवारी कूद गया था आसिम

झंझवा गांव में हुई घटना को लेकर एफआईआर से इतर एक और घटनाक्रम गूंजता रहा। कई लोगों का कहना था कि सलमान व उसका दोस्त आसिम (20) मंगलवार रात डेढ़ बजे करीब हेलाल के घर उसकी पुत्री से मिलने पहुंच गए। सलमान वहां बाहर खड़ा था जबकि उसका दोस्त आसिम अंदर से बंद मुख्य दरवाजे को खोलने के लिए चहारदीवारी को कूदकर अंदर चला गया। वहां हेलाल के पिता जहीर जग गए। जिसके बाद अचानक कहासुनी व विवाद होने लगा। इसी के बाद चाकू से हमला होने की घटना के साथ ही ग्रामीणों की घेराबंदी हुई।

24 घंटे में होगी फरार आरोपी की गिरफ्तारी

आईजी अयोध्या जोन डॉ. प्रवीण कुमार लगातार दूसरे दिन अंबेडकरनगर पहुंचे। उन्होंने एसपी अजीत सिन्हा के साथ झंझवा दोहरे हत्याकांड का जायजा लिया। आईजी ने दिवंगत जहीर के दस वर्षीय पौत्र अकदस व अन्य ग्रामीणों से घटना को लेकर जानकारी हासिल की। आईजी ने कहा कि घटना में जान पहचान वाले ही लोग शामिल थे। घटना के सभी पहलुओं पर जांच कराई जा रही है। केस दर्ज कर लिया है। 24 घंटे में फरार आरोपी की भी गिरफ्तारी होगी। आईजी ने एसपी के साथ गांव का निरीक्षण करने के बाद सुरक्षा प्रबंधों का भी जायजा लिया। 

कड़ी सुरक्षा में शव सुपुर्दे खाक

एकतरफा प्यार में युवक द्वारा युवती के घर पहुंचकर मचाए गए कोहराम का शिकार हुए वृद्ध जहीर के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार कड़ी सुरक्षा में इलाकाई कब्रिस्तान में कर दिया गया। पोस्टमाॅर्टम के बाद बुधवार दिन में शव पहुंचा तो पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में शव को मिट्टी दी गई। प्रशासन ने झंझवा गांव के अलावा आरोपियों से जुड़े गांव नोनारा में भी पुलिस व पीएसी के जवानों की तैनाती कर दी है।

Ballia Tak on WhatsApp

Comments

Post A Comment